आज दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए पड़े वोटों की गिनती हो रही है. अब तक सभी 70 सीटों के रुझान आ चुके हैं. इनमें सत्ताधारी आम आदमी पार्टी एक बार फिर से प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में लौटती दिख रही है. वह 58 सीटों पर आगे है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपनी सीट पर आगे चल रहे हैं. हालांकि उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को झटका लगता दिख रहा है जो अपनी पटपड़गंज सीट से पीछे चल रहे हैं. पिछली बार तीन सीटें जीतने वाली भाजपा का प्रदर्शन इस बार सुधरा दिख रहा है. वह 12 सीटों पर आगे चल रही है. पिछले चुनाव में एक भी सीट न जीतने वाली कांग्रेस का इस बार भी खाता खुलता नहीं दिख रहा. इन आंकड़ों के बाद आप के दिल्ली स्थित मुख्यालय पर जश्न शुरू हो गया है. अरविंद केजरीवाल वहां पहुंच चुके हैं.

दिल्ली विधानसभा की 70 सीटों के लिए आठ फरवरी को वोटिंग हुई थी. पिछली बार आम आदमी पार्टी ने असाधारण जीत हासिल करते हुए 67 सीटें जीती थीं. विपक्षी भाजपा तीन सीटों पर सिमट गई थी जबकि 15 साल दिल्ली की सत्ता में रही कांग्रेस का आंकड़ा शून्य था. इस बार भाजपा को 22 साल बाद दिल्ली की सत्ता में वापसी की उम्मीद थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने उसकी तरफ से प्रचार किया था. लेकिन उसकी उम्मीदें धुंधली होती दिख रही हैं.