दिल्ली विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पिछली बार की तरह खाता भी नहीं खोल सकी. इसके बाद पार्टी के भीतर सिर-फुटौव्वल दिखने लगी है. हार की जिम्मेदारी लेते हुए दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा इस्तीफा दे चुके हैं. उधर, दिल्ली महिला कांग्रेस की मुखिया शर्मिष्ठा मुखर्जी ने अपनी ही पार्टी के नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम पर निशाना साधा है. पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की बेटी और पार्टी प्रवक्ता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने पी चिदंबरम से पूछा है कि क्या कांग्रेस ने भाजपा को हराने का ठेका आप जैसे क्षेत्रीय दलों को दे दिया है. एक ट्वीट में उनका यह भी कहना था कि अगर इसका जवाब हां है तो प्रदेश कांग्रेस कमेटी को अपनी दुकान बंद कर देनी चाहिए.

इससे पहले पी चिदंबरम ने दिल्ली में आम आदमी पार्टी की प्रचंड जीत पर खुशी जताई थी. उनका कहना था कि दिल्ली के लोगों ने भाजपा की विभाजनकारी राजनीति को नकार दिया है. पी चिदंबरम ने यह भी कहा था कि वे दिल्ली के लोगों को सलाम करते हैं जिन्होंने दूसरे राज्यों में होने वाले चुनावों के लिए उदाहरण स्थापित कर दिया है.