झारखंड के दिग्गज आदिवासी नेता बाबूलाल मरांडी भाजपा में शामिल हो गए हैं. सोमवार को रांची में आयोजित एक कार्यक्रम में उनकी पार्टी झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) का भाजपा में विलय हुआ. इस विलय कार्यक्रम में बाबूलाल मरांडी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और राज्य भाजपा के सभी बड़े नेता मौजूद थे. बाबूलाल मरांडी ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने के बाद कहा, ‘जो भी काम देंगे मैं करूंगा यहां तक कि झाड़ू लगाने का काम दें तो वो भी करूंगा.’

इस अवसर पर अमित शाह ने कहा, ‘आज 14 वर्ष बाद श्री बाबूलाल मरांडी जी पार्टी में लौटे हैं. मुझे विश्वास है कि उनके भाजपा में आने से पार्टी की झारखंड के विकास एवं यहाँ की जनता के कल्याण के लिए संघर्ष की शक्ति कई गुना बढ़ेगी...भाजपा बाबूलाल मरांडी से अपने घर में अपने जैसा व्यवहार करेगी. ऐसा ही सम्मान उनकी पार्टी के अन्य नेताओं और कार्यकर्ताओं का भी किया जाएगा.’

बाबूलाल मरांडी झारखंड के पहले मुख्यमंत्री बने थे. तब वे भाजपा में ही हुआ करते थे. लेकिन 2006 में उन्होंने अपनी अलग पार्टी बना ली. झारखंड विकास मोर्चा ने 2009, 2014 और 2019 के विधानसभा चुनाव में क्रमश: 11, आठ और तीन सीटों पर जीत दर्ज की.

बीते कुछ समय बाबूलाल मरांडी की भाजपा में वापसी के कयास लग रहे थे. हाल के महीनों में हुई राजनीतिक गतिविधियों से इन कयासों को बल भी मिला. हाल ही में बाबूलाल मरांडी ने पार्टी की कार्यकारिणी को भी भंग कर दिया था. उन्होंने कहा था कि इसे नए सिरे से बनाने की जरूरत है.