पाकिस्तान ने मुंबई हमले को ‘हिंदू आतंक’ का रंग देने की साजिश रची थी : राकेश मारिया

पाकिस्तान के आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने 2008 के मुंबई हमले को ‘हिंदू आतंक’ का रंग देने की साजिश रची थी. लेकिन आतंकी अजमल कसाब के जिंदा पकड़े जाने से यह चाल नाकाम हो गई. दैनिक जागरण के मुताबिक मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त और आतंकी हमले की जांच करने वाले राकेश मारिया ने अपनी पुस्तक में यह दावा किया है. मारिया की किताब ‘लेट मी से इट नाउ’ का सोमवार को विमोचन हुआ. उन्होंने कहा है कि लश्कर ने कसाब के हाथ में कलावा बांधकर भेजा था और उसके पास बेंगलुरु निवासी समीर चौधरी के नाम से पहचान पत्र भी था. राकेश मारिया के मुताबिक अगर पाकिस्तान और लश्कर की साजिश के मुताबिक कसाब भी मार दिया गया होता तो हमले को ‘हिंदू आतंक’ का रूप दे दिया गया होता.

अब वोटर आईडी को आधार से जोड़ा जाएगा

सरकार चुनाव आयोग को वोटर आईडी, आधार से जोड़ने का अधिकार देगी. इसके लिए आधार एक्ट और दूसरे संबंधित कानूनों में बदलाव किया जाएगा. द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक इस संबंध में कानून मंत्रालय एक प्रस्ताव तैयार कर रहा है जिसे जल्द ही केंद्रीय कैबिनेट के सामने रखा जाएगा. कहा जा रहा है कि आधार के वोटर आईडी से जुड़ने के बाद डुप्लीकेट एंट्री जैसी समस्याएं दूर होंगी. इसके अलावा ऐसा होने पर रिमोट वोटिंग भी हो सकेगी. यानी वे लोग भी वोट डाल सकेंगे जो अलग-अलग कारणों के चलते अपने मूल निवास दूर रह रहे हैं.

राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास की पहली बैठक आज, मंदिर निर्माण की तारीख का ऐलान हो सकता है

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर केंद्र सरकार द्वारा गठित राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास की पहली बैठक आज शाम दिल्ली में होगी. हिंदुस्तान के मुताबिक इसमें मंदिर निर्माण की तारीख समेत कई विषयों पर विचार किया जा सकता है. बैठक में उस सुझाव के बारे में चर्चा की जा सकती है कि क्या आम जनता से सहयोग राशि ली जानी चाहिए या नहीं. ट्रस्ट की बैठक में शिलान्यास के मुहूर्त से लेकर निर्माण पूर्ण होने के लिए समयसीमा निर्धारित करने के मुद्दों पर भी चर्चा की जा सकती है. सुप्रीम कोर्ट द्वारा राम मंदिर के पक्ष में फैसला देने और मंदिर निर्माण के लिए न्यास के गठन के आदेश पर पांच फरवरी को केंद्र सरकार ने ट्रस्ट का ऐलान किया था.