निर्भया मामले के एक दोषी ने दिल्ली की तिहाड़ जेल में खुद को चोट पहुंचाने की कोशिश की है. विनय कुमार नाम के इस दोषी ने दीवार पर सिर मार दिया. इसके बाद उसके वकील एपी सिंह ने दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में एक नई याचिका दाखिल की है. इसमें विनय की मानसिक हालत ठीक नहीं होने का हवाला दिया गया है. याचिका में अनुरोध किया गया है कि उसे तुरंत शाहदरा स्थित मानसिक अस्पताल में भर्ती कराया जाए. याचिका में विनय कुमार की उच्चस्तरीय मेडिकल जांच कराने की मांग भी की गई है.

उधर, मामले की सुनवाई के दौरान तिहाड़ जेल प्रशासन ने इस पर विरोध जताया. उसने कहा कि विनय कुमार की तरफ से लगाई गई याचिका सुने जाने योग्य नहीं है. प्रशासन के मुताबिक जेल मैन्युअल के तहत जो भी नियम दोषी के लिए हैं, उनका पालन किया जा रहा है. फिलहाल अदालत ने तिहाड़ जेल प्रशासन को निर्देश दिए हैं कि वह विनय का ट्रीटमेंट कराए. मामले की अगली सुनवाई शनिवार दोपहर 12 बजे होगी. निर्भया मामले के चारों दोषियों का डेथ वारंट जारी हो चुका है. यह तीसरी बार है जब ऐसा हुआ है. इससे पहले कानूनी प्रावधानों के चलते उनकी फांसी दो बार टल चुकी है. विनय कुमार की इस नई याचिका को फांसी एक बार फिर टालने की तिकड़म माना जा रहा है.