देश की जनसंख्या में संतुलन हो: संघ प्रमुख

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत ने कहा है कि देश की जनसंख्या संतुलित होनी चाहिए. दैनिक जागरण के मुताबिक देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून लाने की वकालत करते हुए उन्होंने यह भी कहा कि कानून ऐसा बने, जिससे देश का नुकसान न हो. संघ प्रमुख अपने पांच दिवसीय झारखंड के दौरे के दूसरे दिन रांची में राज्य के प्रबुद्ध लोगों के साथ संवाद में पूछे गए प्रश्नों के जवाब दे रहे थे. मोहन भागवत ने कहा कि देश में कहीं मुस्लिमों की आबादी बढ़ी है तो कहीं हिंदुओं की. उनका कहना था, ‘जनसंख्या नियंत्रण कानून पर देश में एक मत बनाना चाहिए. अगर एक मत बनता है तो समाज के सभी वर्गो पर इसे लागू करना चाहिए ताकि टकराव न हो.’

पाकिस्तान को राहत नहीं, ग्रे लिस्ट में बना रहेगा

फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) यानी एफएटीएफ ने फिलहाल पाकिस्तान को अपनी ग्रे लिस्ट में बरकरार रखने का फैसला किया है. हिंदुस्तान के मुताबिक संस्था की बैठक कल पेरिस में संपन्न हुई. इसका मतलब यह है कि अपनी अर्थव्यवस्था को डूबने से बचाने के लिए इमरान खान सरकार के पास बस चार महीने का समय है. अगर जून, 2020 तक पाकिस्तान आतंकियों और आतंकी संगठनों को मिलने वाले फंड को रोकने के लिए विश्व बिरादरी को संतुष्ट करने वाला कदम नहीं उठाता है तो उसके खिलाफ ऐसे कदम उठाए जा सकते हैं जो उसकी बेहाल अर्थव्यवस्था के लिए घातक हो सकते हैं. भारत ने इस फैसले की सराहना की है. उसने कहा है कि आतंकियों पर कार्रवाई के पाकिस्तान के दावे झूठ साबित हुए हैं.

उद्धव ठाकरे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले, कहा-मुसलमानों को सीएए से डरने की जरूरत नहीं

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की. द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक इसके बाद उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन काूनन (सीएए) से मुसलमानों सहित किसी को डरने की जरूरत नहीं है. शिवसेना प्रमुख ने यह भी साफ किया कि महाराष्ट्र में राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) की प्रक्रिया को उनकी सरकार आगे बढ़ाएगी. उद्धव ठाकरे का बयान इसलिए भी अहम माना जा रहा है क्योंकि उनके सहयोगी एनसीपी और कांग्रेस इस पर उलट रुख रखते हैं. प्रधानमंत्री से मिलने के बाद उन्होंने कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी मुलाकात की.