जामिया हिंसा : लाइब्रेरी में दिल्ली पुलिस की बर्बरता का वीडियो जारी | रविवार, 16 फरवरी 2020

जामिया मिलिया इस्लामिया में 15 दिसंबर को हुई बर्बरता से जुड़ा का एक वीडियो सामने आया. ये वीडियो जामिया कॉर्डिनेशन कमेटी (जेसीसी) ने जारी किया. इसमें पुलिसकर्मी लाइब्रेरी में मौजूद छात्रों पर डंडे बरसाते नजर आ रहे हैं. जेसीसी का दावा है कि 15 दिसंबर को जब नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ आंदोलन हुआ तो उस दौरान पुलिस ने जामिया के अंदर पढ़ रहे छात्रों पर लाठियां बरसाईं. जो वीडियो जारी किया गया है उसमें छात्र लाइब्रेरी में पढ़ते नजर आ रहे हैं और उनके हाथों में किताबें भी हैं. (विस्तार से)

सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला, महिलाओं को सेना में स्थायी कमीशन और कमांड पोस्टिंग मिलेगी | सोमवार, 17 फरवरी 2020

महिला अधिकारों को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने एक बड़ा फैसला सुनाया है. जस्टिस डीवाई चंद्रचूड और जस्टिस अजय रस्तोगी की एक बेंच ने कहा कि केंद्र को महिला अधिकारियों को कमांड पोस्टिंग भी देनी होगी और स्थायी कमीशन भी. उसने कहा कि जिन महिला अधिकारियों ने सेवा में 14 साल से ज्यादा का समय दिया है उन्हें स्थायी कमीशन न देने का उसे कोई कारण समझ में नहीं आता. इसका मतलब यह है कि पुरुषों की तरह महिलाओं को भी अब सेना में कर्नल या उससे ऊपर के पद मिल सकेंगे. एक कर्नल एक बटालियन का नेतृत्व करता है जिसमें औसतन 850 सैनिक होते हैं. (विस्तार से)

पैन, बैंक और जमीन से जुड़े दस्तावेजों से नागरिकता साबित नहीं होती : गुवाहाटी हाईकोर्ट | मंगलवार, 18 फरवरी 2020

गुवाहाटी हाईकोर्ट ने अपने एक अहम फैसले में कहा है कि पैन, बैंक और जमीन से जुड़े दस्तावेजों से नागरिकता साबित नहीं की जा सकती. गुवाहाटी हाई कोर्ट ने विदेशी न्यायाधिकरण के फैसले के खिलाफ एक महिला की याचिका खारिज करते हुए यह बात कही है. न्यायाधिकरण (ट्रिब्यूनल) ने महिला को विदेशी नागरिक की श्रेणी में रखा था. हालांकि, प्रशासन ने भूमि और बैंक खातों से जुड़े दस्तावेजों को स्वीकार्य दस्तावेजों की सूची में रखा है. (विस्तार से)

हम अमेरिका के दबाव के आगे नहीं झुकेंगे : हसन रूहानी | बुधवार, 19 फरवरी 2020

ईरान ने कहा है कि वह अमेरिकी दबाव के आगे नहीं झुकेगा. खबरों के मुताबिक वहां के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा, ‘मजबूरी में हम अमेरिका के साथ बातचीत शुरू नहीं करेंगे.’ उनका आगे कहना था था, ‘हमारा दुश्मन बख़ूबी जानता है कि दबाव की उसकी रणनीति अप्रभावी हो चुकी है. बिना ईरान की मदद से संवेदनशील इलाके मध्य-पूर्व में शांति और स्थिरता संभव नहीं है.’ डोनाल्ड ट्रंप ने सत्ता में आने के बाद से ही ईरान के साथ रुख कड़ा कर रखा है. हाल में ईरानी जनरल कासिम सुलेमानी की अमेरिकी हमले में मौत और ईरान के इस पर पलटवार के साथ इन दोनों देशों के संबंधों में तनाव नए स्तर पर पहुंच गया है. अमेरिका के कड़े आर्थिक प्रतिबंधों से ईरान की अर्थव्यवस्था की हालत पहले से ही बहुत खराब है. (विस्तार से)

चीन : 108 और लोगों की मौत के बाद कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 2112 हुई | गुरुवार, 20 फरवरी 2020

चीन में कोरोना वायरस संक्रमण से जान गंवाने वालों की संख्या 2112 हो गई है. चीनी अधिकारियों के मुताबिक 74 हजार से भी ज्यादा लोग इससे संक्रमित हैं. कोरोना वायरस से ज्यादातर मौतें इससे सबसे ज्यादा प्रभावित हुबेई प्रांत में हुई हैं. प्रांतीय स्वास्थ्य आयोग के अनुसार गुरुवार को हुबेई में इस वायरस के 349 नए मामले सामने आए और 108 लोगों की मौत हुई. हुबेई की राजधानी वुहान को पूरी तरह सील किया जा चुका है. (विस्तार से)

कर्नाटक में लिंगायत मठ ने नई लकीर खींची, एक मुस्लिम को प्रधान पुजारी बनाया | शुक्रवार, 21 फरवरी 2020

कर्नाटक में एक लिंगायत मठ ने नई लकीर खींची है. उसने परंपराओं से अलग जाकर एक मुस्लिम युवक को अपना प्रधान पुरोहित बनाने का फैसला किया है. द टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक यह लिंगायत मठ कर्नाटक के गडग जिले में है. 33 साल के दीवान शरीफ रहमानसाब मुल्ला 26 फरवरी को इस पद को ग्रहण करेंगे. उनके मुताबिक वे बचपन से ही 12वीं सदी के सुधारक बसवेश्वर की शिक्षाओं से प्रभावित थे. बसवेश्वर ने ही 12 सदी में लिंगायत संप्रदाय की शुरुआत की थी. (विस्तार से)

शाहीनबाग : सुप्रीम कोर्ट के वार्ताकारों से बातचीत के बाद प्रदर्शनकारियों ने एक सड़क खोली | शनिवार, 22 फरवरी 2020

शाहीनबाग के प्रदर्शनकारियों ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त वार्ताकारों से बातचीत के बाद एक सड़क खोलने का फैसला किया है. खबरों के मुताबिक, प्रदर्शनकारियों ने फैसला किया है कि वे जामिया से नोएडा जाने वाली सड़क के एक तरफ से हट जाएंगे. शाहीनबाग में सीएए-एनआरसी के विरोध में पिछले दो महीने से ज्यादा समय से धरना चल रहा है. प्रदर्शन के चलते शाहीनबाग से जाने वाले कई रास्ते बंद हैं. अदालत में मामला पहुंचने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने इसको लेकर दो वरिष्ठ अधिवक्ताओं को वार्ताकार के रूप में नियुक्त किया था. सुप्रीम कोर्ट की ओर से नियुक्त वार्ताकार साधना रामचंद्रन और संजय हेगड़े पिछले चार दिनों से प्रदर्शनकारियों से बातचीत कर रहे थे. (विस्तार से)

देश और दुनिया की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें.