महाराष्ट्र के सोलापुर से भाजपा के टिकट पर सांसद बने जय सिद्धेश्वर शिवाचार्य का जाति प्रमाण पत्र अवैध घोषित कर दिया गया है. इससे उनकी लोकसभा सदस्यता खतरे में आ गई है. जयसिद्धेश्वर शिवाचार्य ने पिछले साल लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के दिग्गज नेता सुशील कुमार शिंदे को करीब डेढ़ लाख से अधिक मतों से हराया था.

महाराष्ट्र की सोलापुर संसदीय सीट अनसूचित जाति के लिए आरक्षित है. चुनाव के दौरान नामांकन के वक्त जयसिद्धेश्वर शिवाचार्य ने जाति प्रमाण पत्र जमा किया था. इसमें उनकी जाति बेड जंगम बताई गई है. इसके खिलाफ जिला जाति पड़ताल समिति में शिकायत की गई थी. शिकायतकर्ता का कहना था कि जयसिद्धेश्वर शिवाचार्य लिंगायत समुदाय से हैं.

इसके बाद एक तीन सदस्यीय समिति ने मामले की जांच की. वह जयसिद्धेश्वर शिवाचार्य की जाति से संबंधित कागजात से संतुष्ट नहीं हुई तो उसने सांसद से सबूत के रूप में जाति संबंधी अन्य कागजात देने के लिए कहा. लेकिन जयसिद्धेश्वर शिवाचार्य ऐसा करने में असफल रहे. इसके बाद समिति ने उनके जाति प्रमाण पत्र को अवैध करार दे दिया. उसने सांसद के खिलाफ जाति प्रमाण पत्र कानून के तहत मामला दर्ज करने का आदेश भी दिया है. उधर, जयसिद्धेश्वर शिवाचार्य के वकील का कहना है कि समिति ने यह फैसला बाहरी दबाव में लिया है.