समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान, उनकी पत्नी तजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम को बुधवार को अदालत ने एक मामले में जेल भेज दिया. आजम खान, उनकी पत्नी और बेटे धोखाधड़ी के एक मामले में अदालत में पेश हुए थे.

उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री आजम खान पर दर्ज यह मुकदमा धोखाधड़ी से बेटे अब्दुल्ला आजम का जन्म प्रमाण पत्र बनवाने से संबंधित है. भाजपा नेता आकाश सक्सेना ने रामपुर में आजम खान, अब्दुल्ला आजम और तजीन फातिमा के खिलाफ यह मुकदमा दर्ज कराया था. इसमें आरोप लगाया था कि अनुचित लाभ लेने के लिए सपा सांसद आजम खान और उनकी पत्नी तजीन फातिमा ने बेटे अब्दुल्ला आजम के दो जन्म प्रमाण पत्र बनवाए.

यह मामला अदालत में विचाराधीन है. इस मुकदमे में पेश न होने पर आजम खान, के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किए गए थे. बार-बार के आदेश से लेकर मुनादी तक कराने के बाद भी कोर्ट में हाजिर न होने पर अदालत ने मंगलवार को सीआरपीसी की धारा-83 के तहत संपत्ति कुर्क करने के आदेश जारी किया था.