दिल्ली के उत्तर-पूर्वी इलाके में मारे गए खुफिया विभाग के कर्मचारी अंकित शर्मा की हत्या का आरोप आम आदमी पार्टी के एक पार्षद पर लग रहा है. अंकित के पिता रविदंर शर्मा ने दावा किया है कि नेहरू विहार इलाके के पार्षद ताहिर हुसैन के घर से लोग पत्थर फेंक रहे थे. समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए उनका कहना था, ‘अंकित जब ड्यूटी से लौटकर आया, तो बाहर क्या हो रहा है ये देखने गया था. वहां पथराव हो रहा था. तभी बिल्डिंग से 15-20 बंदे आए और मेरे लड़के को खींचकर ले गए. 5-6 लोगों को ले गए. जो लोग उसे छुड़ाने गए, उन पर गोलियां चलाई गईं और पेट्रोल बम छोड़ दिया.’

उनका आगे कहना था, ‘कॉलोनी के किसी ने बताया कि आपके लड़के की लाश इधर गिरी है. तब तक ये नहीं पता था कि मेरा ही लड़का है या कोई और है....सुबह 10 बजे एसीपी ने बॉडी निकलवाई. किसी पड़ोसी ने लाशें डालते देखा था, तो पुलिस को ख़बर दी गई.’

ताहिर हुसैन पर और भी कई लोगों ने हिंसा फैलाने वालों को घर में पनाह देने का आरोप लगाया है. उनसे जुड़ा एक वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें उनके घर से लोग पथराव करते नजर आ रहे हैं.

उधर, आप नेता ने इस पर सफाई दी है. एक वीडियो में उन्होंने दावा किया है कि हिंसा करने वालों ने उनके दफ्तर पर कब्जा करके पथराव किया. एक अन्य बयान में उनका यह भी कहना था कि अंकित शर्मा की हत्या पर वे दुखी हैं और इस हत्या की जांच में वे हर तरह का सहयोग करने के लिए भी तैयार हैं.