‘अगर आप का कोई शामिल हो तो उसे डबल सजा दो.’

— अरविंद केजरीवाल, दिल्ली के मुख्यमंत्री

अरविंद केजरीवाल की यह प्रतिक्रिया दिल्ली में हुई हिंसा के मद्देनजर उनकी पार्टी के एक पार्षद पर लग रहे गंभीर आरोपों पर आई. नेहरू विहार से पार्षद ताहिर हुसैन को आईबी के एक कर्मचारी अंकित शर्मा की हत्या का जिम्मेदार माना जा रहा है. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि देश की सुरक्षा के साथ कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए. आप प्रमुख ने हिंसा में मारे गए लोगों के लिए 10 लाख रु के मुआवजे का ऐलान भी किया.

‘सोनिया जी ने रामलीला मैदान पर कहा कि आर-पार की लड़ाई है.’  

— प्रकाश जावड़ेकर, केंद्रीय मंत्री

प्रकाश जावड़ेकर ने यह बात दिल्ली में हुई हिंसा के लिए कांग्रेस और आप नेताओं को जिम्मेदार बताते हुए कही. उन्होंने आरोप लगाया कि दो महीने से लोगों को उकसाया जा रहा है. प्रकाश जावड़ेकर का यह भी कहना था कि भाजपा कांग्रेस और आप के बजाय शांति बहाल करने के लिए काम कर रही है.


‘इस मुद्दे का राजनीतिकरण करके कांग्रेस ने एक बार फिर न्यायपालिका के प्रति अपनी दुर्भावना को दिखाया है.’  

— रविशंकर प्रसाद, केंद्रीय कानून मंत्री

रविशंकर प्रसाद की यह प्रतिक्रिया दिल्ली हाई कोर्ट के जज एस मुरलीधर के तबादले को लेकर कांग्रेस के आरोपों पर आई. यह तबादला दिल्ली में हुई हिंसा के मामले की सुनवाई के बीच में हुआ है. कांग्रेस ने कहा था कि उन्होंने भाजपा नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया था इसलिए उन्हें हटा दिया गया. रविशंकर प्रसाद ने कहा कि यह एक रूटीन कार्रवाई है और इस तबादले की सिफारिश 12 जनवरी को ही हो गई थी.