उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को प्रेस कान्फ्रेंस की. उन्होंने कहा कि हिंसा में मारे गए लोगों के परिवार को दिल्ली सरकार राहत के तौर पर दस-दस लाख का मुआवजा देगी. उन्होंने यह भी कहा कि हिंसा में घायल सभी लोगों का खर्च दिल्ली सरकार उठाएगी. इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि दंगे में गंभीर रुप से घायल लोगों को दो-दो लाख का मुआवजा दिया जाएगा. इसके अलावा हिंसा में जिन लोगों के घर जलाए गए हैं, उनको पांच लाख रूपये राहत के तौर पर दिए जाएंगे.

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने हिंसा में आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन के शामिल होने के सवाल पर कहा कि अगर कोई आप नेता हिंसा में शामिल है तो उसे दोगुनी सजा मिलनी चाहिए. दिल्ली हिंसा को लेकर आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन पर आरोप लग रहा है कि हिंसा भड़काने में उनका भी हाथ है. हिंसा में मारे गए आईबी कर्मी अंकित शर्मा के परिजनों ने भी ताहिर हुसैन पर अंकित की हत्या का आरोप लगाया है. इसके अलावा ताहिर के घर के कुछ वीडियो सामने आए हैं, जिनमें उनके घर की छत पर बड़ी मात्रा में पत्थर और पेट्रोल बम दिख रहे हैं. हालांकि, ताहिर ने इन आरोपों से इन्कार करते हुए इसे राजनीतिक साजिश बताया है.