मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार संकट में घिरती दिख रही है. गायब चल रहे उसके चार विधायकों में से एक हरदीप डांग ने इस्तीफा दे दिया है. विधानसभा अध्यक्ष को भेजे इस इस्तीफे में उनका कहना है कि दूसरी बार जीतने के बावजूद पार्टी लगातार उनकी उपेक्षा कर रही है. उन्होंने कहा कि कोई मंत्री काम नहीं करता क्योंकि सरकार भ्रष्टाचारी है.

इससे पहले खबर आई थी कि कांग्रेस और उसे समर्थन दे रहे 10 विधायक गायब हो गए हैं. पार्टी ने इसका आरोप भाजपा पर लगाया था और कहा था कि उसकी सरकार गिराने की साजिश रची जा रही है. उसने यह भी दावा किया था कि इनमें से छह विधायकों को वह गुरुग्राम स्थित एक होटल से वापस ले आई है, लेकिन चार अब भी गायब हैं जिन्हें भाजपा कर्नाटक ले गई है.

उधर, मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि उन्हें हरदीप डांग के इस्तीफे की सूचना मिल गई है, लेकिन अभी तक उन्होंने इस्तीफा देखा नहीं है. उनके मुताबिक उनकी विधायक से व्यक्तिगत तौर पर कोई बात नहीं हुई है. कमलनाथ ने कहा कि जब तक वे हरदीप डांग से व्यक्तिगत तौर पर मिल नहीं लेते तब तक वे इस संदर्भ में कुछ भी नहीं कहना चाहेंगे.