पश्चिम बंगाल : दिल्ली हिंसा से नाराज अभिनेत्री ने भाजपा से इस्तीफा दिया | रविवार, 01 मार्च 2020

दिल्ली में हुई हिंसा से नाराज बांग्ला फिल्मों की लोकप्रिय अभिनेत्री सुभद्रा मुखर्जी ने भाजपा छोड़ने की घोषणा कर दी. 2013 में भाजपा में शामिल हुईं सुभद्रा मुखर्जी ने अपना इस्तीफा बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष को भेज दिया है. पीटीआई के मुताबिक अभिनेत्री ने शनिवार को मीडिया को यह जानकारी दी.

मीडिया से बात करते हुए सुभद्रा मुखर्जी ने कहा, ‘मैं बहुत ही उम्मीदों के साथ भाजपा में शामिल हुई थी. लेकिन हाल ही में दिल्ली में हुई हिंसा को देखकर मैं बहुत परेशान हूं...धर्म के नाम पर लोग एक-दूसरे का गला क्यों काट रहे हैं? मैं 40 लोगों की मौत के बाद बहुत ही ज्यादा व्याकुल हूं.’ सुभद्रा ने आगे कहा कि वह ऐसी राजनीति से खुद को नहीं जोड़ना चाहतीं, जहां लोगों को उनके धर्म के आधार पर पहचाना जाए न कि मानवता के आधार पर.

कर्नाटक : भाजपा नेता के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी को पाकिस्तानी एजेंट कहने पर विवाद | सोमवार, 02 मार्च 2020

कर्नाटक में एक भाजपा नेता के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एचएस डोरेस्वामी को पाकिस्तानी एजेंट कहे जाने पर विवाद हो गया. विपक्षी कांग्रेस ने इसके लिए विजयपुरा से भाजपा विधायक बसवराज यत्नाल के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग की. पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कल यह मामला विधानसभा में उठाने की भी कोशिश की थी. लेकिन भाजपा ने इसका विरोध किया और इसके बाद हुए हंगामे की वजह से विधानसभा की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी.

102 साल के एचएस डोरेस्वामी भाजपा की अगुवाई वाली केंद्र सरकार की नीतियों के आलोचक रहे हैं. वे नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ भी प्रदर्शन करते रहे हैं. उधर, भाजपा नेता ने साफ कर दिया कि वे अपने बयान से पीछे नहीं हटेंगे. बसवराज यत्नाल ने एचएस डोरेस्वामी को जनता दल सेकुलर और कांग्रेस का भोंपू भी बताया.

सीएए के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद सुप्रीम कोर्ट पहुंची | मंगलवार, 03 मार्च 2020

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) पर सुप्रीम कोर्ट में हस्तक्षेप याचिका दायर की. इसमें उसने अनुरोध किया कि शीर्ष अदालत में चल रहे इस मामले में उसे भी एक पक्ष बनाया जाए. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यह जानकारी दी. खबरों के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘जिनेवा में हमारे स्थायी दूतावास को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार प्रमुख ने सूचित किया कि उनके कार्यालय ने सीएए के संबंध में भारत के उच्चतम न्यायालय में हस्तक्षेप याचिका दाखिल की है.’

ऐसा पहली बार हुआ है जब यूएनएचआरसी ने भारत से जुड़े किसी कानून के खिलाफ उसकी शीर्ष अदालत का दरवाजा खटखटाया है. इसे सीएए को लेकर भारत पर दबाव बनाने की कोशिश माना जा रहा है. विदेश मंत्रालय ने इस पर तीखी प्रतिक्रिया दी है. रवीश कुमार ने कहा, “हमारा स्पष्ट रूप से यह मानना है कि भारत की संप्रभुता से जुड़े मुद्दों पर किसी विदेशी पक्ष का कोई अधिकार नहीं बनता.’

अफगानिस्तान में तालिबान के हमलों में 20 सुरक्षाकर्मियों की मौत | बुधवार, 04 मार्च 2020

अफगानिस्तान में अलग-अलग जगहों पर हुए तालिबान के हमलों में अफगान सेना और पुलिस के कम से कम 20 कर्मियों की मौत हो गई. इससे कुछ ही घंटे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि उनकी तालिबान के राजनीतिक प्रमुख से बहुत अच्छी’ बातचीत हुई है. तालिबान के हमलों के बाद अमेरिका ने भी उसके लड़ाकों पर दक्षिणी हेलमंद प्रांत में हवाई हमला किया.

बीती 29 फरवरी को ही अमेरिका और तालिबान के बीच कतर में शांति समझौता हुआ था. हालांकि सोमवार को तालिबान ने कह दिया था कि वह आंशिक संघर्ष विराम खत्म करने के साथ ही अफगान सुरक्षा बलों के खिलाफ आक्रामक अभियान फिर शुरू करने जा रहा है. इस आंशिक संघर्ष विराम की घोषणा समझौते से पहले की गई थी. तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने कहा कि समझौते के मुताबिक वे विदेशी बलों पर हमला नहीं करेंगे लेकिन अफगानी सुरक्षा बलों के खिलाफ उनका अभियान जारी रहेगा.

ईरान के सर्वोच्च नेता खामनेई ने कहा, भारत को मुसलमानों का नरसंहार रोकना चाहिए | गुरुवार, 05 मार्च 2020

ईरान ने भारत को लेकर एक बार फिर कड़ा रुख दिखाया. ईरान के सर्वोच्च धार्मिक नेता अयातुल्लाह खामनेई ने गुरुवार को कहा कि भारत में मुसलमानों के साथ गलत व्यवहार हो रहा है जिससे दुनिया भर के मुसलमान दुखी हैं.

उन्होंने एक ट्वीट में लिखा, ‘भारत में मुसलमानों के नरसंहार पर दुनियाभर के मुसलमानों का दिल दुखी है. भारत सरकार को कट्टर हिंदुओं और उनकी पार्टियों को रोकना चाहिए. इस्लामी दुनिया की ओर से भारत को अलग-थलग किए जाने से बचने के लिए उसे मुसलमानों के नरसंहार को रोकना चाहिए.’

निर्मला सीतारमण का पी चिदंबरम पर पलटवार, कहा - यस बैंक संकट के लिए यूपीए के डॉक्टर जिम्मेदार | शुक्रवार, 06 मार्च 2020

यस बैंक में चल रहे संकट को लेकर कांग्रेस नेता पी चिदंबरम के हमले के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पलटवार किया. शुक्रवार को उन्होंने कहा कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के कार्यकाल में ‘स्व-नियुक्त सक्षम डॉक्टरों’ ने तीन बैंकों का संकट हल करने के बजाय उनकी समस्याएं और बढ़ा दी थीं. इससे पहले पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा था कि यस बैंक का संकट बैंकिंग व्यवस्था को संभालने में मोदी सरकार की नाकामी को दिखाता है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, ‘मैं यहां पुराने किस्से सुनाने नहीं आई हूं पर 2004-14 के दौरान सत्ता में सरकार ने जैसे काम किया उसकी वजह से बैंकिंग प्रणाली के सामने कई गंभीर चुनौतियां हैं. उन पर दोष मढ़ने की मेरे पास वजह है.’

देश में कोरोना के तीन नए मामले सामने आए, कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 34 हुई | शनिवार, 07 मार्च 2020

देश में कोरोना वायरस के तीन और नए मामले सामने आए. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी देते हुए बताया कि भारत में कोरोना वायरस के अब तक कुल 34 मामले सामने आ चुके हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, हाल ही में ईरान से लौटे लद्दाख के दो लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए. इसके अलावा ओमान से आए भारत आए एक शख्स में भी कोरोना वायरस का संक्रमण पाया गया. दो नए केस लद्दाख में मिले हैं, जबकि एक मामला तमिलनाडु से सामना आया है. स्वास्थ्य विभाग के अनुसार नए मिले तीनों मरीजों की हालत फिलहाल स्थिर है. इसके अलावा शनिवार को जम्मू में भी हाई वायरल लोड वाले दो मरीजों में कोरोना वायरस की आशंका जताई गई है. इसके बाद जम्मू क्षेत्र में प्रशासन ने सभी प्राथमिक स्कूल 31 मार्च तक बंद रखने का फैसला किया है.

देश और दुनिया की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें.