योगी सरकार को झटका, इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सीएए विरोधियों के पोस्टर हटाने को कहा

उत्तर प्रदेश में नागरिकता संशोधन कानून यानी सीएए के खिलाफ हुई हिंसा को लेकर राजधानी लखनऊ में लगे पोस्टरों के मामले में योगी सरकार को झटका लगा है. इलाहाबाद हाई कोर्ट ने उससे ये पोस्टर हटाने को कहा है. अदालत ने इस कदम को अवैध और मानवाधिकारों का उल्लंघन करार देते हुए लखनऊ प्रशासन से 16 मार्च तक इस मामले में रिपोर्ट भी तलब की है. पुलिस-प्रशासन द्वारा लगाए गए इन पोस्टरों में 53 लोगों के नाम, उनकी तस्वीरें और उनके पते छपे हैं. इनमें पूर्व आईपीएस अधिकारी एसआर दारापुरी और सामाजिक कार्यकर्ता सदफ जफर समेत कई चर्चित नाम भी हैं. लखनऊ प्रशासन और पुलिस के मुताबिक ये लोग पिछले साल सीएए के खिलाफ हुए हिंसक प्रदर्शन में शामिल थे. उसका यह भी कहना है कि प्रदर्शन के दौरान सार्वजनिक संपत्ति को पहुंचे नुकसान की इन लोगों से भरपाई के लिए ये पोस्टर लगाए गए हैं.

विपक्षी नेताओं ने संयुक्त बयान जारी कर उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती की रिहाई की मांग की, कहा - असहमति का गला घोंटा जा रहा है

एनसीपी मुखिया शरद पवार और टीएमसी अध्यक्ष ममता बनर्जी सहित विपक्ष के कई प्रमुख नेताओं ने आज एक साझा बयान जारी किया. इसमें उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती सहित कश्मीर के सभी राजनीतिक बंदियों की रिहाई की मांग की गई है. ये सभी नेता बीते साल अगस्त से हिरासत में हैं. साझा बयान के मुताबिक मुताबिक इन कश्मीरी नेताओं का अतीत देखें तो ऐसा कुछ नहीं है जिससे ये संकेत मिले कि इन नेताओं की गतिविधियां देश के लिए किसी तरह का खतरा हैं. बयान में ये भी कहा गया कि सरकार लोकतांत्रिक तरीके से अपनी सहमति दर्ज कराने वालों का घोंट रही है. विपक्षी नेताओं ने आरोप लगाया है कि बुनियादी अधिकारों पर हमले लगातार बढ़ रहे हैं. इस बयान पर हस्ताक्षर करने वालों में पूर्ववर्ती भाजपा सरकारों के दौरान केंद्रीय मंत्री रहे यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी जैसे नाम भी शामिल हैं.

यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर और उनके परिवार पर शिकंजा कसा, पत्नी और बेटी के खिलाफ सीबीआई ने मामला दर्ज किया

यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर और उनके परिवार पर जांच एजेंसियों का शिकंजा कसता जा रहा है. आज राणा कपूर की पत्नी और बेटी के खिलाफ सीबीआई ने आज रिश्वतखोरी का मामला दर्ज किया. इससे पहले राणा कपूर की बेटी रोशनी कपूर को कल मुंबई एयरपोर्ट पर तब रोक लिया गया था जब वे लंदन के लिए रवाना हो रही थीं. उनके और उनके परिवार के अन्य सदस्यों के खिलाफ लुकआउट जारी पहले ही जारी कर दिया गया था. राणा कपूर फिलहाल 11 मार्च तक ईडी की हिरासत में हैं. इससे पहले, यस बैंक से नकद निकासी पर रिजर्व बैंक 50 हजार रु की सीमा लगा चुका है. ये सीमा अगले एक महीने तक जारी रहेगी. यस बैंक का निदेशक मंडल भी भंग कर दिया गया है.

भारत में कोरोना वायरस के दो और मामलों की पुष्टि, कुल मरीजों का आंकड़ा 43 हुआ

भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. जम्मू-कश्मीर और केरल में दो नए मामले सामने आने के बाद ये 43 हो गई है. उधर, केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए रैपिड एक्शन टीमें बनाने के लिए कहा है. चीन के बाद अब कोरोना वायरस भारत सहित दुनिया के 60 देशों में फैल गया है. इससे मरने वालों का आंकड़ा 3100 के पार पहुंच चुका है. चीन के बाहर इटली, ईरान और दक्षिण कोरिया में इसका प्रकोप सबसे ज्यादा है. अमेरिका में भी कोरोना वायरस से 20 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं.

यस बैंक और कोरोना वायरस से उपजे संकट के चलते शेयर बाजार में फिर भारी गिरावट

यस बैंक और कोरोना वायरस के संकट ने आज फिर शेयर बाजार भी धराशाई कर दिया. सेंसेक्स में करीब 1900 अंकों की गिरावट आई तो निफ्टी ने भी लगभग साढ़े पांच सौ अंकों का गोता लगाया. ये शेयर बाजार में बीते करीब साढ़े चार साल के दौरान एक दिन में आई सबसे ज्यादा गिरावट है. कोरोना वायरस और यस बैंक संकट के अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले असर से घबराए निवेशकों ने आज जमकर बिकवाली की. इसके चलते लगभग सभी प्रमुख शेयरों में गिरावट देखी गई. शेयर बाजार की इस गिरावट का असर रुपये पर भी पड़ा है. भारतीय मुद्रा डॉलर के मुकाबले 74 के स्तर के ऊपर बनी हुई है.

देश और दुनिया की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें.