आर्थिक संकट से जूझ रहे यस बैंक के ग्राहकों को बड़ी राहत मिली है. बैंक ने ऐलान किया है कि उसकी सभी सेवाएं बहाल हो गई है. रिजर्व बैंक ने पिछले दिनों यस बैंक के ग्राहकों के लिए नकद निकासी पर 50 हजार रु की सीमा तय कर दी थी. साथ ही उसने बैंक पर कुछ अन्य प्रतिबंध भी लगा दिए थे. ये प्रतिबंध अब हट गए हैं.

यस बैंक को संकट से उबारने के लिए एसबीआई सहित कई बैंकों ने उसकी हिस्सेदारी खरीदने का ऐलान किया है. बैंक के संस्थापक राणा कपूर फिलहाल प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में हैं. उन पर रिश्वत लेकर ऐसी कंपनियों को भी कर्ज देने का आरोप है जिनकी माली हालत ठीक नहीं थी. ये कर्ज बाद में एनपीए हो गया था जिसके चलते बैंक संकट में आ गया.