रंजन गोगोई ने राज्यसभा सांसद के रूप में शपथ ली, विपक्ष ने ‘शर्म करो’ के नारे लगाए

पूर्व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने आज राज्य सभा सांसद के रूप में शपथ ली. इस दौरान कांग्रेस और दूसरी विपक्षी पार्टियो ने ‘शर्म करो’ के नारे लगाए. विपक्षी दलों का आरोप है कि इस नियुक्ति ने न्यायपालिका की आजादी को खतरे में डाला है. सपा के अलावा बाकी दलों ने रंजन गोगोई की शपथ के बीच में ही वॉकआउट किया. उधर, सरकार ने रंजन गोगोई का बचाव किया है. कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राज्य सभा में अलग-अलग क्षेत्रों से जानी-मानी हस्तियों के आने की महान परंपरा रही है जिनमें पूर्व मुख्य न्यायाधीश शामिल हैं. रंजन गोगोई बीते नवंबर में ही रिटायर हुए थे. उनका कहना है कि वे न्यायपालिका और विधायिका में सामंजस्य सुनिश्चित करने के लिए राज्य सभा आए हैं.

भारत में कोरोना वायरस से चौथी मौत, अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की लैंडिंग पर रोक लगेगी

देश में कोरोना वायरस से एक और व्यक्ति की मौत हो गई है. ताजा मामला पंजाब के नवांशहर जिले का है, जहां 72 साल के एक बुजुर्ग ने इस वायरस के संक्रमण के बाद दम तोड़ दिया. ये बुजुर्ग हाल ही में जर्मनी से लौटे थे. मौत के बाद उनके गांव को सील कर दिया गया है. कोरोना वायरस से देश में हुई इस चौथी मौत के बाद सरकार ने देश में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की लैंडिंग पर पूरी तरह से रोक लगा दी है. ये रोक 22 मार्च से एक हफ्ते तक प्रभावी होगी. सरकार ने 65 साल से अधिक उम्र के लोगों और 10 साल से कम उम्र के बच्चों को घर में रहने का निर्देश दिया है. अब तक देश में 178 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. दुनिया भर में इस वायरस से अब तक आठ हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं.

प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस को प्रथम विश्व युद्ध से भी बड़ा खतरा बताया, 22 मार्च को जनता कर्फ्यू की अपील की

कोरोना वायरस से बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देश को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस प्रथम विश्व युद्ध से भी बड़ा खतरा है जिसने पूरी मानव जाति को संकट में डाल दिया है. नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च यानी आने वाले रविवार को लोगों से ‘जनता कर्फ्यू’ लगाने की अपील की. प्रधानमंत्री ने कहा कि उस दिन लोग सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक घर में ही रहें. उनका ये भी कहना था कि ऐसे हालात में संकल्प और संयम जरूरी है. प्रधानमंत्री के मुताबिक इस महामारी के कारण देश की अर्थव्‍यवस्‍था को नुकसान पहुंचा है. उन्होंने बताया कि सरकार ने वित्‍त मंत्री के नेतृत्‍व में कोविड-19 इकॉनॉमिक टास्‍क फोर्स के गठन का फैसला लिया है.

निर्भया मामला : चारों दोषियों को कल फांसी दी जाएगी

निर्भया मामले के दोषियों को कल सुबह फांसी दी जाएगी. चारों दोषियों को ये सजा दिल्ली की तिहाड़ जेल में दी जाएगी. आवश्यक औपचारिकताओं के बाद उनके शव उनके परिवारवालों को सौंप दिए जाएंगे. चारों दोषियों की फांसी इससे पहले डेथ वारंट जारी होने के बाद दो बार टल गई थी. आज भी दोषियों ने पटियाला हाउस कोर्ट से लेकर ऊपरी अदालतों तक याचिकाएं लगाईं थीं, लेकिन उनकी सजा पर रोक नहीं लगी. 16 दिसंबर, 2012 को दिल्ली में एक चलती बस में 23 साल की पैरामेडिकल छात्रा निर्भया के साथ सामूहिक बलात्कार और बर्बरता की गयी थी. उसी महीने सिंगापुर के एक अस्पताल में उसकी मौत हो गयी थी.

कमलनाथ सरकार को बड़ा झटका, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उसे कल बहुमत साबित करना होगा

मध्य प्रदेश में जारी सियासी संकट के बीच सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया. अदालत ने मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार को विधानसभा में बहुमत परीक्षण कराने का आदेश दिया है. मध्य प्रदेश विधानसभा में यह परीक्षण शुक्रवार शाम पांच बजे तक कराया जाएगा.

सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि फ्लोर टेस्ट की वीडियोग्राफी की जाएगी साथ ही विधानसभा की कार्यवाही का लाइव प्रसारण किया जाएगा. शुक्रवार को होने वाले विधानसभा सत्र का एक मात्र मकसद फ्लोर टेस्ट करवाना ही होगा. कोर्ट के मुताबिक सभी अधिकारी ये सुनिश्चित करें कि किसी भी तरह आदेश का उल्लंघन न हो.