कोरोना वायरस संकट : इटली में मौतों की संख्या चीन से ज्यादा हुई

कोरोना वायरस से होने वाली सबसे ज्यादा मौतों के मामले में अब इटली पहले नंबर पर है. गुरुवार को वहां 427 लोगों की मौत की खबर आई. इसके साथ ही इटली में कोरोना वायरस से कुल 3405 मौतें हो चुकी हैं. चीन, जहां दिसंबर में सबसे पहले यह संक्रमण शुरू हुआ था, के लिए यह आंकड़ा 3245 है. चीनी अधिकारियों के लिए राहत की बड़ी बात यह रही कि पहली बार गुरुवार को यहां नए संक्रमण का एक भी मामला दर्ज नहीं किया गया.

मुंबई बंद!

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई सहित महाराष्ट्र के कुछ दूसरे शहरों में सभी दफ्तर 31 मार्च तक बंद रहेंगे. कोरोना वायरस से उपजे हालात के मद्देनजर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को यह ऐलान किया. जरूरी चीजों को छोड़कर बाकी सभी चीजों की दुकानें भी बंद रहेंगी. उद्धव ठाकरे ने यह भी कहा कि मुंबई में सरकारी दफ्तरों में 25 फीसदी उपस्थिति के साथ काम होगा.

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों की संख्या 52 हो गई है. पूरे देश की बात करें तो कोरोना वायरस के मरीजों का आंकड़ा 206 तक पहुंच गया है. अब तक इससे चार मौतें हो चुकी हैं.

कमलनाथ ने इस्तीफा दिया

मध्य प्रदेश में 15 महीने पुरानी कांग्रेस सरकार गिर गई है. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस्तीफा दे दिया है. आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा ने साजिश करके और प्रलोभन देकर उसके 22 विधायकों को बंधक बना लिया था. कमलनाथ ने दावा किया कि 15 महीनों के दौरान उनकी सरकार ने जो विकास कार्य किए उनसे 15 साल शासन करने वाली भाजपा घबरा गई थी, इसलिए उसने सरकार गिराने की साजिश की. उन्होंने कहा कि ऐसा करके पार्टी ने मध्य प्रदेश के लोगों के साथ विश्वासघात किया है.

निर्भया मामला अपने अंजाम तक पहुंचा, चारों दोषियों को फांसी

निर्भया मामले के दोषियों को फांसी दे दी गई है. चारों दोषियों को ये सजा दिल्ली की तिहाड़ जेल में सुबह 5:30 बजे दी गई. यह पहली बार था जब तिहाड़ में चार कैदियों को एक साथ फांसी हुई. आवश्यक औपचारिकताओं के बाद उनके शव उनके परिवारवालों को सौंप दिए जाएंगे. चारों दोषियों की फांसी इससे पहले डेथ वारंट जारी होने के बाद दो बार टल गई थी. कल भी दोषियों ने पटियाला हाउस कोर्ट से लेकर ऊपरी अदालतों तक याचिकाएं लगाईं थीं, लेकिन उनकी सजा पर रोक नहीं लगी.

कोरोना वायरस : दिल्ली के सभी बाज़ार कल से तीन दिन के लिए बंद

कोरोना वायरस के चलते कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने एक बड़ा फैसला लिया है. कैट ने कल से तीन दिन तक दिल्ली के सभी बाजार बंद रखने का फैसला किया है. कैट ने शुक्रवार को दिल्ली के व्यापारी संगठनों के साथ एक बैठक की. पीटीआई के मुताबिक बैठक में कहा गया कि जिस तरह तेज़ी से कोरोना वायरस फैल रहा है उससे सामुदायिक संक्रमण का ख़तरा बढ़ गया है. ऐसे में दिल्ली के सभी बाज़ार 21, 22 और 23 मार्च को पूरी तरह बंद रखना ही सही होगा. कैट के मुताबिक 23 मार्च को दिल्ली के प्रमुख व्यापारिक संगठनों के नेता सारी स्थिति की समीक्षा करेंगे और आगे का निर्णय लेंगे.