कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गईं चर्चित गायिका कनिका कपूर के खिलाफ उत्तर प्रदेश के लखनऊ में मामला दर्ज किया गया है. लखनऊ के मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमओ) के निर्देश पर दर्ज इस एफआईआर में आरोप है कि घर पर रहने की सलाह देने के बावजूद उन्होंने लापरवाही बरती और कई पार्टियों में शिरकत की. इनमें से एक पार्टी में भाजपा नेता वसुंधरा राजे, उनके बेटे दुष्यंत सिंह और कई दूसरे राजनेता मौजूद थे. ये सभी लोग फिलहाल सेल्फ क्वारंटाइन में चले गए हैं यानी कुछ दिनों के लिए उन्होंने खुद को दूसरों से अलग कर लिया है.

बताया जा रहा है कि लखनऊ एयरपोर्ट पर उतरने के बाद दूसरे यात्रियों की तरह कनिका कपूर की भी स्क्रीनिंग हुई थी. इस दौरान उनमें कोरोना वायरस के लक्षण देखे गए थे और उन्हें घर पर ही रहने को कहा गया था. कनिका कपूर नौ मार्च को लंदन से मुंबई आई थीं. लंदन में कोरोना वायरस के मामलों में बीते कुछ समय के दौरान तेजी से बढ़ोतरी हुई है. हालांकि, फिलहाल अस्पताल में भर्ती इस गायिका ने खुद पर लगे आरोपों से इनकार किया है. मीडिया से बातचीत में कनिका कपूर ने कहा है कि उन्होंने कई फोन किये तब जाकर दो दिन बाद उनका कोरोना वायरस का टेस्ट किया गया.

कनिका कपूर ने कई बड़ी हस्तियों की चिंता बढ़ा दी है. इनमें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी शामिल हैं जिन्होंने फिलहाल अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं. असल में लखनऊ में कनिका कपूर के साथ पार्टी में शिरकत करने के बाद दुष्यंत सिंह उत्तर प्रदेश और राजस्थान के कई सांसदों के साथ राष्ट्रपति से मिले थे. नाश्ते पर हुई इस बैठक में पूर्व केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन राठौर, भाजपा सांसद हेमा मालिनी, केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, कांग्रेस नेता कुमारी शैलजा, तृणमूल कांग्रेस नेता डेरेक ओ ब्रायन, आप नेता संजय सिंह और चर्चित बॉक्सर मैरी कॉम जैसी हस्तियां मौजूद थीं. अब कनिका कपूर से शुरू हुए इस सिलसिले की हर कड़ी की तलाश की जा रही है. यानी उन लोगों को खोजा जा रहा है जो इस दौरान इन सभी लोगों से मिले थे.

कोरोना वायरस की चपेट में आए 143 देशों में मरने वालों का आंकड़ा 10 हजार तक चला गया है. दो लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हैं. भारत में इसके चलते चार मौतें हो चुकी हैं और संक्रमित लोगों की संख्या 200 को पार कर गई है. ऐसे हालात के चलते इन दिनों सबको सामाजिक संपर्क कम से कम रखने की सलाह दी जा रही है. खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के नाम अपने संदेश में यह अपील कर चुके हैं. इसलिए लखनऊ में हुई इस पार्टी ने राजनेताओं पर भी सवाल खड़े कर दिए हैं.