हफ्ते के पहले दिन भारतीय शेयर बाजार में एक बार फिर कोहराम मच गया. सेंसेक्स में तीन हजार तो निफ्टी में 800 से ज्यादा अंकों की गिरावट आ गई. कुछ ही मिनटों में लाखों करोड़ रु साफ हो गए. इस भारी गिरावट को देखते हुए कुछ समय के लिए ट्रेडिंग रोक दी गई गई. बीते पखवाड़े भी एक बार ऐसा करना पड़ा था.

कोरोना वायरस की मार के चलते वैश्विक अर्थव्यवस्था पर तगड़ी चोट पड़ना तय है. इसके चलते निवेशक शेयर बाजार से अपना पैसा निकाल रहे हैं. इसके चलते दुनिया भर के शेयर बाजारों में भारी गिरावट देखी जा रही है. अमेरिका के डाउ जोंस से जापान के निक्कई तक सब हांफ रहे हैं. शेयर बाजार की इस उथल-पुथल का असर रुपये पर भी पड़ा है. भारतीय मुद्रा डॉलर के मुकाबले 76 का आंकड़ा पार गई है जो इसका अब तक का सबसे निचला स्तर है.