कोरोना वायरस से पैदा हुए हालात के मद्देनजर अब सुप्रीम कोर्ट में मामलों की सुनवाई सिर्फ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी. सुनवाई भी केवल उन मामलों की ही होगी जो बेहद जरूरी हैं. वकील घर से ही वीडियो काफ्रेंसिंग के जरिए बहस कर सकेंगे. मख्य न्यायाधीश एसए बोबडे ने कहा कि वे हर सप्ताहांत पर हालात की समीक्षा करेंगे और आगे क्या होना है, इस बारे में जरूरी निर्देश देंगे.

सुप्रीम कोर्ट ने परिसर में वकीलों के चेंबर सील करने के आदेश दिए हैं. वकीलों से अपना सामान और फाइलें निकालने को कहा गया है और इसके लिए उन्हें मंगलवार शाम पांच बजे तक का वक्त दिया गया है. उसके बाद किसी को भी सुप्रीम कोर्ट परिसर में आने की इजाजत नहीं दी जाएगी.

कोरोना वायरस के चलते भारतीय रेलवे ने अपनी सभी यात्रा सेवाओं को बंद कर दिया है. केवल मालगाड़ियां चलेंगी. ऐसे में 13,523 ट्रेनों के पहिए थम गए हैं. पहले रेलवे ने केवल पैसेंजर ट्रेनें बंद करने का ऐलान किया था. लेकिन रविवार रात उसने सभी यात्री सेवाओं को बंद करने का फैसला किया. दिल्ली समेत कई राज्यों के ऐसे 75 जिलों में पूरी तरह से लॉकडाउन है जहां कोरोना वायरस का कोई मामला दर्ज हुआ है.

देश में कोरोना वायरस के कुल मरीजों की संख्या 415 हो गई है. अब तक इससे सात लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं 23 मरीज ऐसे भी हैं जो कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद उबर गए और पूरी तरह ठीक हो गए.