कोरोना वायरस के मद्देनजर पूरे देश में लॉकडाउन के बीच दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में सीएए के खिलाफ धरने पर बैठे प्रदर्शनकारियों को आज हटा दिया गया. ये लोग यहां बीते 100 दिन से धरने पर बैठे थे. खबरों के मुताबिक पुलिस ने पहले उनसे खुद ही हटने का आग्रह किया, लेकिन जब वे नहीं माने तो उन्हें जबर्दस्ती हटा दिया गया. छह महिलाओं सहित नौ लोगों को हिरासत में भी लिया गया है. शाहीन बाग के अलावा जाफराबाद और तुर्कमान गेट जैसे दिल्ली के दूसरे इलाकों में सीएए के खिलाफ धरने पर बैठे लोगों को भी हटा दिया गया है.

कोरोना वायरस संकट को देखते हुए पूरी दिल्ली में धारा 144 लागू है जिसमें लोगों के इकट्ठा होने पर रोक है. दो दिन पहले ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पूरी दिल्ली में लॉकडाउन का ऐलान करते हुए कहा था कि संकट के समय में असाधारण कदमों की जरूरत पड़ती है.