कोरोना वायरस से पैदा हुए विश्वव्यापी संकट के बीच इन दिनों एक तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है. इसमें मुंह पर मास्क लगाए एक शख्स अपने घर के गेट के बाहर से अपने बच्चों को देख रहा है. दावा किया जा रहा है कि ये इंडोनेशिया के डाक्टर हादियो अली थे जिनकी कोरोना वायरस के चलते मौत हो गई. बताया जा रहा है कि मरने से पहले वे अपने परिवार को देखना चाहते थे और यह उनकी आखिरी तस्वीर है.

इस तस्वीर के साथ वायरल हो रहे एक मैसेज में लिखा है, ‘यह इंडोनेशिया के डा. #हैदियो_अली की आख़री तस्वीर है जो #कोरोना वॉयरस के मरीज़ों का ईलाज करते हुए खुद कोरोना से संक्रमित हो गये थे.जब उनको लगा के अब वोह नहीं बचेंगे तो घर गए और गेट के बाहर खड़े होकर अपने बच्चों और प्रैग्नेंट बीवी को आख़री बार निहारा और फिर चले गए.’

एक अन्य मैसेज में लिखा है, ‘तस्वीर में गेट के बाहर नज़र आ रहे हैं वो डॉ हादियो अली हैं, जो जकार्ता, इंडोनेशिया में डॉक्टर थे. कोरोना-संक्रमित मरीजों का इलाज करते हुए खुद संक्रमित हो गए. जब उनकी स्थिति बहुत बिगड़ गयी तो वो आख़िरी बार परिवार से मिलने घर के दरवाजे पर आए. तस्वीर में वे घर से बाहर दरवाजे पर खड़े दिख रहे हैं और इस तरफ उनके दोनों बच्चे हैं. उनकी गर्भवती पत्नी ने यह तस्वीर ली है. वक़्त ख़त्म हो गया था डॉ हादियो, उनकी पत्नी को पता था, सब एक दूसरे से गले लगना चाह रहे होंगे. बच्चे पिता से लिपटना चाहते होंगे लेकिन आखिरी वक़्त में सब एकदूसरे को आँख भरकर बस देखते रहे, दौड़कर गले भी नहीं लगा सके.’

लाखों लोग इन पोस्टों को पढ़ने के बाद डॉक्टर हादियो अली को श्रद्धांजलि दे रहे हैं. मानवता के लिए जान देने के उनके जज्बे को सलाम कर रहे हैं और मैसेज आगे बढ़ा रहे हैं. लेकिन तथ्य यह है कि यह तस्वीर डॉ. हादियो अली की नहीं है.

तो यह शख्स कौन है?

तथ्य यह है कि यह एक दूसरे डॉक्टर की तस्वीर है. यह डॉक्टर मलेशिया का है. कई खबरों में उसके एक परिचित के हवाले से बताया गया है कि यह डॉक्टर कोरोना वायरस के पीड़ितों का इलाज कर रहा है और पूरी तरह स्वस्थ है. इस दौरान वह अपने परिवार से मिलने घर गया था और एहतियात बरतते हुए उसने बच्चों और दूसरे सदस्यों से दूरी बनाए रखी. यह तस्वीर उसी समय की है.

तो डॉक्टर हादियो अली कौन हैं?

डॉ हादियो अली इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता के एक अस्पताल में न्यूरोसर्जन थे. 22 मार्च को उनकी कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते मौत हो गई. इंडोनेशिया में कोरोना वायरस से 55 लोगों की मौत हो चुकी है और यह आंकड़ा दक्षिण एशियाई देशों में सबसे ज्यादा है. मरने वालों में हादियो अली सहित छह डॉक्टर भी हैं.

तथ्य यह भी है कि यह इमेज और इससे जुड़ा फर्जी दावा सबसे पहले बिरगाल्डो सिनागा नाम के एक शख्स ने फेसबुक पर पोस्ट किया था. यह शख्स इस पोस्ट को हटा चुका है और फेसबुक पर माफी भी मांग चुका है.