कोरोना वायरस से उपजे हालात में देश के विभिन्न वर्गों को राहत देने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1.7 लाख करोड़ रु के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया है. इसकी प्रमुख बातें:

1-प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत मिलने वाले सालाना 6000 रु में से 2000 रु की किस्त किसानों को अप्रैल के पहले हफ्ते में ही दे दी जाएगी. यह सीधे उनके खाते में ट्रांसफर होगी. वित्त मंत्री ने कहा कि इससे देश के 6.7 करोड़ किसानों को फायदा होगा.

2-मनरेगा में मजदूरी की दिहाड़ी 182 से बढ़ाकर 202 रु कर दी गई है. वित्त मंत्री ने कहा कि इससे पांच करोड़ लोगों की आय में 2000 रु की वृद्धि होगी.

3-बुजुर्गों, विधवाओं और दिव्यांगों को अगले तीन महीने के दौरान एक हजार रु की अतिरिक्त रकम दी जाएगी. इससे करीब तीन करोड़ लोगों का फायदा होगा.

4-जिन महिलाओं के खाते जन-धन योजना के तहत खुले हैं उन्हें अगले तीन महीने तक हर महीने 500 रु की रकम दी जाएगी. ऐसे लगभग 20.5 करोड़ खाते हैं.

5-उज्ज्वला योजना के तहत रसोई गैस कनेक्शन पाने वाली महिलाओं को अगले तीन महीने तक मुफ्ते में रसोई गैस के सिलेंडर मिलेंगे. इससे 8.2 करोड़ परिवारों को फायदा होगा.

6-प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत हर गरीब को अगले तीन महीनों तक हर महीने पांच किलो गेहूं या चावल मुफ्त दिया जाएगा. यह अभी मिल रहे पांच किलो गेहूं-चावल के अतिरिक्त होगा. साथ ही एक किलो दाल भी दी जाएगी. इस योजना का फायदा 80 करोड़ गरीबों को मिलेगा.

7-महिला स्वयं सहायता समूहों को 20 लाख रु तक के कोलैटरल (जिसमें कुछ गिरवी रखने की जरूरत नहीं होती) लोन दिए जाएंगे. इससे सात करोड़ परिवारों को फायदा पहुंचने की बात कही गई है.

8-संगठित क्षेत्र की जिन कंपनियों में 100 से कम कर्मचारी हैं और उनमें से 90 फीसदी का वेतन 15 हजार रु से कम हैं, उनके लिए सरकार ने विशेष व्यवस्था की है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि ऐसी कंपनियों के कर्मचारियों के वेतन का जो हिस्सा पीएफ में कटता है वह अगले तीन महीने तक सरकार देगी. कंपनी का इसमें जो योगदान होता है, वह भी सरकार ही देगी. अभी नियोक्ता और कर्मचारी दोनों का इसमें 12-12 फीसदी हिस्सा होता है.

9-निर्माण कार्य में लगे मजदूरों के लिए केंद्र सरकार राज्यों को निर्देश देगी कि वे भवन और अन्य निर्माण श्रमिक कानून के तहत मिले फंड का इस्तेमाल कर उन्हें फायदा दें. वित्त मंत्री का कहना था कि इसमें 31 हजार करोड़ रु की रकम है.

10-निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए दिन-रात मोर्चे पर डटे स्वास्थ्य कर्मियों के लिए 50 लाख रु के बीमा का ऐलान भी किया है.