लॉकडाउन के दौरान दिल्ली से पैदल मध्य प्रदेश के लिए निकले एक 39 वर्षीय युवक की आगरा में मौत हो गई. मौत से पहले रणवीर 200 किलोमीटर चल चुका था. एनडीटीवी के मुताबिक मध्य प्रदेश के मुरैना का रहने वाला रणवीर शुक्रवार की शाम तीन बजे अपने साथियों के साथ दिल्ली से निकला था.

बताते हैं कि शनिवार तड़के आगरा पहुंचने के बाद वह आराम करने लगा जिस वजह से उसके साथी आगे निकल गए. इसके बाद सुबह 6.30 बजे आगरा के सिकंदरा थाना क्षेत्र में सड़क किनारे उसकी मौत हो गयी. रणवीर के परिजन मौत की वजह भूख-प्यास बता रहे हैं, जबकि सिकंदरा थानाध्यक्ष कुलदीप सिंह का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत की वजह हार्ट अटैक बताई गई है.

रणवीर दिल्ली में एक होटल में टिफिन डिलीवरी का काम करता था. लॉकडाउन की वजह से होटल मालिक ने उसकी छुट्‌टी कर दी. परिजनों के मुताबिक शुक्रवार शाम छह बजे उसने अपनी बहन को फोन करके कहा था कि वह फरीदाबाद आ गया है और जल्द ही घर पहुंच जाऊंगा. लेकिन जब अगले दिन सुबह उसे फोन किया गया तो उसकी मौत की सूचना मिली.

मृतक रणवीर के परिवार में बूढ़ी मां के अलावा पत्नी, दो बेटियां और एक बेटा है. इनकी परवरिश के लिए ही वह तीन साल पहले दिल्ली पहुंचा था और एक होटल में टिफिन डिलीवरी का काम कर रहा था.