दिल्ली पुलिस ने निजामुद्दीन मरकज मामले में मरकज के मौलाना साद कांधलवी और कई अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस ने सरकार के निर्देशों का उल्लंघन करने के आरोप में मौलाना साद के खिलाफ आईपीसी की धारा 269, 270, 271, 120-बी और महामारी रोग अधिनियम-1897 की धारा 3 के तहत मामला दर्ज किया है. इस मामले की जांच दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को सौंपी गयी है.

दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में स्थित मरकज में हुए एक आयोजन में 12-13 मार्च के आसपास देश-विदेश से हजारों लोग एकत्रित हुए थे. इनमें काफी लोग चले गए और कुछ रुक गए. आज मरकज से 1,548 लोगों को निकाला गया है. इनमें से कोरोना टेस्ट में 24 लोग संक्रमित पाए गए हैं. इसके अलावा 441 लोगों में कुछ लक्षण पाए गए हैं जिन्हें अस्पताल भेजा गया है और उनका टेस्ट हो रहा है.

देश भर में कोरोना वायरस से हुई कम से कम 10 मौतों के तार मरकज में हुए धार्मिक आयोजन से जुड़ रहे हैं. तबलीगी जमात नाम के इस संगठन का यह आयोजन इसी महीने निजामुद्दीन इलाके में हुआ था. इसमें हिस्सा लेने वाले और बाद में दम तोड़ने वाले 10 लोगों में से छह तेलंगाना से हैं. आयोजन में हिस्सा लेने वाले अंडमान और निकोबार द्वीप के नौ लोगों में भी कोरोना वायरस का टेस्ट पॉजिटिव आया है. आयोजन के बाद तेलंगाना गए कम से कम 10 इंडोनेशियाई नागरिकों में भी इसकी पुष्टि हुई है. दिल्ली में सोमवार को कोरोना वायरस के जो 25 नए मामले दर्ज हुए उनमें से 18 इस आयोजन से ही जुड़े थे.