कोरोना वायरस संकट के चलते देशव्यापी लॉकडाउन के बीच घर पहुंचने के लिए लोग अनोखे जतन कर रहे हैं. जम्मू-कश्मीर में एक शख्स ने इसके लिए खुद का फर्जी मृत्यु प्रमाणपत्र यानी डेथ सर्टिफिकेट बना डाला. यह शख्स अपने तीन साथियों के साथ घर के नजदीक पहुंच ही गया था कि एक पुलिस नाके पर यह सारा खेल खुल गया और इन सभी को धर लिया गया.

घटना जम्मू-कश्मीर के पूंछ जिले की है. पुलिस के मुताबिक 60 साल के हकम दीन को 27 मार्च को एक हमले में घायल होने के बाद जम्मू स्थित सरकारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था. बीते सोमवार को उसे डिस्चार्ज कर दिया गया. लेकिन लॉकडाउन के चलते उसके पास घर जाने कोई साधन नहीं था. इसके बाद हकम दीन ने एक जुगत लगाई. अपने दो साथियों के साथ मिलकर उसने किसी तरह अपना एक डेथ सर्टिफिकेट बनवा लिया.

इसके बाद इन लोगों ने एक प्राइवेट एंबुलेंस बुलाई और अपने इलाके की तरफ चल दिए. रास्ते में पड़ने वाले हर पुलिस नाके पर वे डेथ सर्टिफिकेट दिखाकर कहते कि गाड़ी में शव रखा है. लेकिन जब वे अपनी मंजिल से कुछ ही किलोमीटर की दूरी पर थे तो एक नाके पर उनका भांडा फूट गया. पुलिसकर्मियों ने गाड़ी की तलाशी ली तो पाया कि उसमें कोई शव नहीं है. इसके बाद चारों को गिरफ्तार कर लिया गया. मामला दर्ज कर फिलहाल उन्हें एक ‘क्वारंटाइन सेंटर’ में भेज दिया गया है.