उत्तर प्रदेश के बांदा राजकीय मेडिकल कॉलेज के स्टाफ ने कॉलेज के प्राचार्य पर सेनेटाइजर और मॉस्क न देने का आरोप लगाया है. मेडिकल कॉलेज में कोरोना वायरस के इलाज के लिए बने आइसोलेशन सेंटर में तैनात एक मेडिकल छात्रा का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है. इस वीडियो में उसने मास्क और सेनेटाइजर मांगने पर प्राचार्य द्वारा हाथ-पैर तोड़ने की धमकी दिए जाने का आरोप लगाया है. वीडियो में छात्रा धमकी का जिक्र करते हुए कहती है, ‘मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य ने हमारी मांग पर हम लोगों से कहा कि यहां से चले जाओ नहीं तो हाथ पैर तुड़वा देंगे...आप लोगों को निकालने का आदेश योगी जी ने दिया है.’ छात्रा के मुताबिक मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने सेनेटाइजर और मॉस्क की मांग करने पर कई लोगों को टर्मिनेट कर दिया है और बिना बताए वेतन भी काट लिया है.

बांदा मेडिकल कॉलेज की इस छात्रा का यह वीडियो कॉग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्विटर पर शेयर किया है. साथ ही उन्होंने योगी सरकार से अपील करते हुए लिखा है, ‘इस समय हमारे मेडिकल स्टाफ को सबसे ज्यादा सहयोग करने की जरूरत है. वे जीवनदाता हैं और योद्धा की तरह मैदान में हैं. बांदा में नर्सों और मेडिकल स्टाफ को उनकी निजी सुरक्षा के उपकरण न देकर और उनके वेतन काट करके बहुत बड़ा अन्याय किया जा रहा है. यूपी सरकार से मैं अपील करती हूँ कि ये समय इन योद्धाओं के साथ अन्याय करने का नहीं है बल्कि उनकी बात सुनने का है.’