भारत में कोरोना वायरस से हुई मौतों का आंकड़ा 109 हो गया है. इस वायरस की चपेट में आने वालों का आंकड़ा चार हजार (4067) के पार हो गया है. पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस से 32 मौतें हुई हैं. यह अब तक इस अवधि में हुई सबसे ज्यादा मौतें हैं. इसी दौरान 693 नए मामले भी दर्ज हुए हैं. कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में दर्ज किए गए हैं. इसके बाद तमिलनाडु और दिल्ली का स्थान है.

पिछले चार दिन से रोज कोरोना वायरस के 500 से ज्यादा मामले दर्ज किए जा रहे हैं. अभी तक भारत में दर्ज हुए 4067 मामलों में से करीब 1000 का संबंध बीते महीने दिल्ली में हुए तबलीगी जमात के आयोजन से है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि अब हर चार दिन में मामले दोगुने हो रहे हैं.

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी सहित विपक्ष के कई नेताओं से फोन पर बात की. प्रधानमंत्री ने पूर्व राष्ट्रपति और प्रतिभा पाटिल को भी फोन किया. खबरों के मुताबिक प्रधानमंत्री ने इन सभी से कोरोना वायरस से उपजे हालात और फिलहाल जारी 21 दिन का देशव्यापी लॉकडाउन हटाने को लेकर चर्चा की. नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और एचडी देवगौड़ा से भी विचार-विमर्श किया. इसके अलावा उन्होंने मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव, ममता बनर्जी, नवीन पटनायक, केसीआर, एमके स्टालिन और प्रकाश सिंह बादल से भी बात की.

विपक्ष के तमाम नेताओं ने शिकायत की थी कि लॉकडाउन का फैसला लेते वक्त उन्हें विश्वास में नहीं लिया गया. कई राज्यों के पूर्व मुख्यमंत्रियों की भी यही शिकायत थी. प्रधानमंत्री ने कुछ दिन पहले सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग भी की थी.