महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल में लॉकडाउन 14 अप्रैल के बाद भी जारी रहेगा. इन दोनों राज्यों की सरकारों ने लॉकडाउन दो हफ्ते यानी 30 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया है. आज कोरोना संकट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हुई एक बैठक के बाद महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्रियों ने यह फैसला लिया.

पीएम मोदी के साथ बैठक के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने ऐलान किया, ‘राज्य में लॉकडाउन 30 अप्रैल तक जारी रहेगा, आगे का फैसला उसके बाद लिया जाएगा.’ इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा, ‘लॉकडाउन के दौरान अब तक महाराष्ट्र के लोगों ने धैर्य दिखाया है. आगे यह आपके हाथ में है कि इस धैर्य को कब तक जारी रखते हैं.’

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री की घोषणा के कुछ देर बाद ही पश्चिम बंगाल ने भी ऐसा ही फैसला ले लिया. राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि राज्य में लॉकडाउन 30 अप्रैल तक जारी रहेगा और सभी शैक्षणिक संस्थान 10 जून तक बंद रहेंगे. ममता ने लोगों से धार्मिक अनुष्ठान और परंपराएं घरों में रहकर ही पूरी करने की अपील की है.

इससे पहले आज मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी संकेत दिया कि 21 दिन का देशव्यापी लॉकडाउन दो हफ्ते और आगे बढ़ सकता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कम से कम 13 मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस की. सभी मुख्यमंत्रियों ने उनसे लॉकडाउन आगे बढ़ाने का अनुरोध किया.

शनिवार को देश में कोरोना वायरस के संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 7400 से पार निकल गया. 239 लोगों की अब तक इस महामारी से मौत हो चुकी है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश भर में 643 लोग कोरोना से ठीक भी हो चुके हैं.