उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम पर हुए हमले को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा है कि इस घटना में शामिल लोगों के खिलाफ रासुका यानी राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत कार्रवाई की जायेगी.

मुख्यमंत्री ने घटना के बाद ट्वीट में लिखा, ‘मुरादाबाद में पुलिस, स्वास्थ्य एवं स्वच्छता अभियान से जुड़े कर्मियों पर हमला एक अक्षम्य अपराध है, जिसकी घोर निंदा की जाती है. ऐसे दोषी व्यक्तियों के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम तथा राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (एनएसए) के तहत कार्रवाई की जाएगी.’ एक अन्य ट्वीट में योगी आदित्यनाथ ने यह भी कहा, ‘दोषियों द्वारा की गई राजकीय संपत्ति के नुकसान की भरपाई उनसे सख्ती से की जाएगी. जिला पुलिस प्रशासन ऐसे उपद्रवी तत्वों को तत्काल चिन्हित करे...’

मुरादाबाद के नागफनी थाना क्षेत्र में दो रोज पहले एक कारोबारी की कोरोना वायरस के चलते मौत हो गयी थी. बुधवार को पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की एक टीम कारोबारी के परिवार और आस-पड़ोस के लोगों को क्वारंटीन करने पहुंची. इसी दौरान कुछ लोगों ने उन पर पथराव शुरू कर दिया. इस हमले स्वास्थ्य टीम और नागफनी थाना प्रभारी को चोटें आयी हैं. एक डॉक्टर की हालत काफी गंभीर बनी हुई है.