कोरोना वायरस महामारी से दुनिया भर में मरने वालों की संख्या डेढ़ लाख से ज्यादा हो गई है. इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन के खिलाफ सख्त रुख अपनाते हुए संकेत दिया है कि यदि कोरोना संकट के लिए चीन जिम्मेदार निकलता है तो उसे इसके परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं.

पीटीआई के मुताबिक डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को व्हाइट हाउस में पत्रकारों बातचीत के दौरान यह बात कही. उन्होंने कहा, ‘कोरोना वायरस को चीन में शुरू होने से पहले रोका जा सकता था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और आज पूरी दुनिया इस संकट से गुजर रही है.’

इसके बाद जब पत्रकारों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से पूछा कि क्या चीन को कोरोना महामारी के लिए अंजाम भुगतना पड़ सकता है? इस पर उनका कहना था, ‘यदि वे इसके लिए जानबूझकर जिम्मेदार हैं तो हां, उन्हें इसके परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं. लेकिन अगर यह सिर्फ एक गलती थी, तो गलती आखिर गलती ही होती है.’

डोनाल्ड ट्रंप कोरोना वायरस को लेकर चीन से खासे नाराज हैं. बीते महीने उन्होंने कई बार इस वायरस की उत्पत्ति के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराया था और इसे चीनी वायरस करार दिया था.

बीते दिसंबर में चीन के शहर वुहान से कोरोना महामारी शुरू हुई थी, इसके बाद देखते ही देखते यह पूरी दुनिया में फ़ैल गयी. अब तक इससे दुनियाभर में 1,57,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.