भाजपा विधायक बेटे को कोटा से बिहार लाए, प्रशांत किशोर का नीतीश कुमार पर तंज- अब कहां गई मर्यादा? | रविवार, 19 अप्रैल 2020

बिहार भाजपा के विधायक अनिल सिंह को अपने बेटे को कोटा से लाने के लिए ‘विशेष पास’ दिए जाने पर सियासत तेज हो गयी. इसे लेकर जेडीयू के पूर्व नेता प्रशांत किशोर ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तीखा हमला बोला.

प्रशांत किशोर ने एक ट्वीट में लिखा, ‘कोटा में फंसे बिहार के सैकड़ों बच्चों की मदद की अपील को नीतीश कुमार ने यह कहकर खारिज कर दिया था कि ऐसा करना लॉकडाउन की मर्यादा के खिलाफ होगा. लेकिन अब उन्हीं की सरकार ने भाजपा के एक विधायक को (राजस्थान के) कोटा से अपने बेटे को लाने के लिए विशेष अनुमति दी है. नीतीश जी अब आपकी मर्यादा क्या कहती है?’ प्रशांत किशोर ने वह ‘विशेष पास’ भी अपने ट्वीट में साझा किया है, जो नवादा जिले के एसडीएम ने विधायक अनिल सिंह को बनाकर दिया है.

कनाडा में गोलीबारी की अब तक की सबसे बड़ी घटना, बंदूकधारी हमलावर ने 16 लोगों की हत्या की | सोमवार, 20 अप्रैल 2020

कनाडा के इतिहास में गोलीबारी की सबसे बड़ी घटना में एक बंदूकधारी हमलावर ने कम से कम 16 लोगों की हत्या कर दी. यह इस देश के नोवा स्कॉटिया प्रांत के पोर्टापिक कस्बे की घटना है. खबरों के मुताबिक इस हमलावर ने पुलिस जैसी वर्दी पहनी हुई थी. वह अपनी कार लेकर एक के बाद एक घर में घुसता गया और लोगों को गोली मारने के बाद घर में आग लगाता रहा. मरने वालों में एक पुलिस अधिकारी भी शामिल है.

उधर, पुलिस का कहना है कि हमलावर को भी मार गिराया गया है. बताया जा रहा है कि यह 51 साल का एक शख्स है जिसका नाम गैब्रिएल वर्टमैन था. गैब्रिएल ने अपनी कार को भी इस तरह से मॉडिफाई किया था कि वह पुलिस की किसी जिप्सी जैसी लगे. पहले पुलिस ने उसे गिरफ्तार करने की बात कही थी, लेकिन बाद में कहा कि वह मारा गया है.

महाराष्ट्र : दो साधुओं सहित तीन की मॉब लिंचिंग के मामले में 110 लोग गिरफ्तार | मंगलवार, 21 अप्रैल 2020

महाराष्ट्र के पालघर में दो साधुओं और एक ड्राइवर की पीट-पीट कर हत्या के मामले में 110 लोगों को हिरासत में ले लिया गया. महाराष्ट्र मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) ने एक ट्वीट में यह जानकारी दी. इसमें कहा गया कि इन सभी को घटना वाले दिन ही गिरफ्तार कर लिया गया था. उधर, पुलिस का कहना है कि इन 110 आरोपितों में से नौ नाबालिग हैं.

खबरों के मुताबिक पालघर के कासा पुलिस थाना क्षेत्र में कुछ दिनों से चोरों के घूमने की अफवाह फैली हुई थी. इसी दौरान गुरुवार को दोनों साधु एक गाड़ी से मुंबई के कांदिवली से सूरत अपने एक मित्र के अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने जा रहे थे. रात करीब दस बजे जब वे कासा से निकल रहे थे तो गांव वालों ने इन्हें रोका और फिर चोर होने के शक में इन पर पत्थरों और लाठी-डंडों से हमला कर दिया. ड्राइवर और दोनों साधुओं की मौके पर ही मौत हो गई. मौके पर पहुंची पुलिस को भी गांव वालों ने निशाना बनाया. हमले में पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं.

एफडीआई नीति में बदलाव के भारत के फैसले की चीन ने आलोचना की, कहा - यह ठीक नहीं है | बुधवार, 22 अप्रैल 2020

चीन ने प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) नीति में बदलाव के भारत के फैसले की आलोचना की. उसने कहा कि यह विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) के उन नियमों के खिलाफ है जिनमें भेदभाव न करते हुए आजादी और निष्पक्षता के साथ व्यापार की बात कही गई है. इस बदलाव को उदारवाद की नीति के खिलाफ बताते हुए चीन ने यह उम्मीद भी जताई कि भारत इस पर फिर से विचार करेगा.

बीते शनिवार को भारत ने एफडीआई से जुड़े नियमों में बदलाव किया था. इसके तहत भारत के साथ थल सीमा साझा करने वाले किसी भी देश की कंपनी को यहां निवेश करने से पहले सरकार से इजाजत लेनी होगी. अब तक यह नियम सिर्फ बांग्लादेश और पाकिस्तान पर लागू होता था.

पश्चिम बंगाल : ममता सरकार का बड़ा फैसला, कोरोना मरीजों का निजी अस्पतालों में मुफ्त इलाज होगा | गुरुवार, 23 अप्रैल 2020

पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों को कोरोना वायरस के मरीजों का मुफ्त इलाज करने के निर्देश दिए. राज्य सरकार ने निजी अस्पतालों से कहा कि वे कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का इलाज करें और इसका पूरा खर्च राज्य सरकार वहन करेगी. बंगाल सरकार ने अस्पतालों को ये भी निर्देश दिए हैं कि वे अपने यहां ये नोटिस भी चस्पा करें कि कोविड-19 के मरीजों का इलाज मुफ्त में किया जाएगा.

गुरूवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लॉकडाउन पर मीडिया से बातचीत की. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को चार मई से लॉकडाउन हटाने पर काम शुरू करना चाहिए. मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार को इसे तीन चरणों में हटाना चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने केंद्र को यह सलाह भी दी है कि लॉकडाउन खोले जाने के बाद भी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के साथ-साथ लंबी दूरी की ट्रेंनें भी बंद रखी जाएं.

अर्णब गोस्वामी को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली, गिरफ्तारी पर तीन सप्ताह की रोक | शुक्रवार, 24 अप्रैल 2020

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने के मामले में रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्णब गोस्वामी को बड़ी राहत मिली. सुप्रीम कोर्ट ने तीन सप्ताह के लिए उनकी गिरफ्तारी पर रोक लगा दी.

लाइव लॉ के मुताबिक शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये इस मामले की सुनवाई जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस एमआर शाह की पीठ ने की. सुनवाई करते हुए पीठ ने कहा कि अदालत याचिकाकर्ता अर्णब गोस्वामी की गिरफ्तारी पर तीन सप्ताह के लिए रोक लगाती है. साथ ही याचिकाकर्ता को ट्रायल कोर्ट या हाईकोर्ट के समक्ष अग्रिम जमानत की अर्जी दाखिल करने की अनुमति देती है.

उत्तर प्रदेश में 30 जून तक शादी-पार्टी-रैली के लिए जमा होने पर रोक | शनिवार, 25 अप्रैल 2020

उत्तर प्रदेश में अब 30 जून तक कोई सार्वजनिक आयोजन नहीं होगा. यानी शादी, पार्टी या फिर राजनीतिक रैलियों के लिए लोग जमा नहीं हो सकेंगे. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को यह आदेश दिया. ऐसा उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर किया गया है. इससे पहले योगी आदित्यनाथ ने राज्य में कोरोना वायरस से निपटने के लिए बनी 11 समितियों के प्रमुखों के साथ एक बैठक की थी. उत्तर प्रदेश में इस वायरस के संक्रमण के 1600 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. 24 लोगों की अब तक मौत भी हो चुकी है.

देश और दुनिया की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें.