देश में कोरोना वायरस का संकट लगातार बढ़ता जा रहा है. इस बीच सरकार ने इससे निपटने के लिए लॉकडाउन को दो हफ्ते और बढ़ा दिया है. अब देश में 17 मई तक लॉकडाउन जारी रहेगा. आज शाम केंद्रीय गृह मंत्रालय ने यह जानकारी दी है.

सरकार ने लॉकडाउन बढ़ाने के साथ देश के सभी जिलों को तीन अलग-अलग जोन में बांट दिया है. 130 जिलों को रेड जोन, 284 को ऑरेंज और 319 को ग्रीन जोन घोषित किया गया है. इन इलाकों को कोविड-19 मामलों की संख्या, मामलों के दोगुना होने की दर, जांच की क्षमता और निगरानी एजेंसियों से मिली जानकारी के आधार पर बांटा गया है.

जोन के हिसाब से सरकार ने इस बार लॉकडाउन में कुछ छूट भी दी है. इस छूट के मद्देनजर ग्रीन जोन में ई-कॉमर्स को मंजूरी दी गई है. साथ ही इसमें दफ्तर और फैक्ट्रियों को शर्तों के साथ खोलने को कहा गया है. दफ्तरों और फैक्ट्रियों में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखना होगा और कार्यस्थल को समय-समय पर सैनेटाइज करना होगा. ग्रीन जोन में शामिल जिलों में शराब और पान की दुकानें भी खोली जाएंगी, लेकिन इन दुकानों पर खरीददारों को छह फीट की दूरी बनाकर रखनी होगी. दुकान पर एक समय में पांच से अधिक लोग खड़े नहीं हो सकेंगे.

इस सबके अलावा ग्रीन जोन में पचास फीसदी सवारी लेकर बसें चलाने की अनुमति दी गई है. लेकिन इस दौरान बस डिपो में केवल पचास फीसदी कर्मचारी ही काम करेंगे. हालांकि, ग्रीन जोन में 3 मई के बाद भी स्कूल, कॉलेज, मॉल्स, पब्स आदि पहले की तरह ही बंद रहेंगे.

गृह मंत्रालय के दिशानिर्देशों के मुताबिक रेड जोन के अंतर्गत आने वाले जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में सभी औद्योगिक और निर्माण गतिविधियां, जिनमें मनरेगा कार्य, खाद्य प्रसंस्करण इकाइयां और ईंट-भट्टे शामिल हैं, को अनुमति दी गई है.

अगर ऑरेंज जोन की बात करें तो इसके अंतर्गत आने वाले जिलों में रेड जोन में दी गई छूट लागू होगी. साथ ही ऑरेंज जोन में टैक्सी और कैब को एक गाड़ी में केवल एक ड्राइवर और एक यात्री के साथ चलने की अनुमति दी गयी है. हालांकि, गाड़ियों के अंतर-जिला आवागमन की इजाजत विशेष परिस्थितियों में ही मिलेगी. इसके अलावा ऑरेंज जोन में दोपहिया वाहनों पर अब दो लोग यात्रा कर सकेंगे.