दिल्ली के नेबसराय इलाके में एक डॉक्टर की खुदकुशी के मामले में पुलिस ने देवली से आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक प्रकाश जरवाल को हिरासत में ले लिया है. इससे पहले कोर्ट ने उनके खिलाफ गैर ज़मानती वारंट जारी किया था. दिल्ली पुलिस के मुताबिक प्रकाश जरवाल के एक सहयोगी कपिल नागर को भी हिरासत में लिया गया है और दोनों से पूछताछ की जा रही है.

बीती 18 अप्रैल को दिल्ली के नेब सराय इलाके में 52 साल के एक डॉक्टर राजेन्द्र सिंह ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. पुलिस के मुताबिक मृतक के पास से दो पेज का सुसाइड नोट मिला था जिसमें उसने आत्महत्या के लिए इलाके के विधायक प्रकाश जरवाल और उनके एक सहयोगी कपिल को जिम्मेदार ठहराया था. मृतक के बेटे हेमंत सिंह की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने जरवाल और उसके सहयोगी के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज किया था.

इस मामले में दिल्ली पुलिस का यह भी कहना है कि उसे मृतक के घर से एक डायरी भी बरामद हुई जिसमें विधायक और उसके सहयोगी द्वारा डॉक्टर को धमकाए जाने की बात लिखी है. एनडीटीवी के मुताबिक इस डायरी में डॉक्टर ने कथित रूप से लिखा है, ‘मेरा एक क्लीनिक है और मेरे कुछ वाटर टैंकर दिल्ली जल बोर्ड में किराए पर चलते थे. लेकिन एमएलए प्रकाश जरवाल और उसके सहयोगी कपिल नागर मुझसे हर टैंकर के हिसाब से पैसे मांगने लगे, कुछ पैसे दिये भी गए लेकिन बाद में मेरे सभी टैंकर प्रकाश जरवाल ने दिल्ली जल बोर्ड से हटवा दिए. इसके बाद मैंने ओखला में दिल्ली जल बोर्ड के लगवाए वहां से भी प्रकाश जरवाल ने टैंकर हटवा दिए. प्रकाश जरवाल और उसका सहयोगी मुझे जान से मारने की धमकी देते हैं, उनकी धमकियों से मेरा जीना मुश्किल हो गया गया.’