गुजरात में सत्ताधारी भाजपा को एक बड़ा झटका लगा है. हाई कोर्ट ने राज्य की ढोलका विधानसभा सीट का चुनाव रद्द करने का आदेश दिया है. अदालत ने यह फैसला वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये सुनाया. 2017 में गुजरात में हुए विधानसभा चुनाव में ढोलका से भाजपा के वरिष्ठ नेता और राज्य के कानून और शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह चुडास्मा जीते थे. उनकी जीत का अंतर बहुत मामूली था. भूपेंद्र सिंह चुडास्मा महज 327 वोटों से जीते थे. उनकी इस जीत को कांग्रेस उम्मीदवार अश्विन राठौर ने चुनौती दी थी. उनका आरोप था कि वोटों की गिनती में गड़बड़ी हुई है. इस मामले में दोनों पक्षों के गवाहों के बयान लेने के बाद हाई कोर्ट ने तत्कालीन रिटर्निंग ऑफिसर धवल जॉनी का तबादला करने का आदेश दिया था.

कांग्रेस नेता और गुजरात में पार्टी इकाई के पूर्व प्रमुख भरत सिंह सोलंकी ने गुजरात हाई कोर्ट के इस फैसले का स्वागत किया है. पार्टी के ही एक अन्य वरिष्ठ नेता और प्रवक्ता शक्ति सिंह गोहिल ने कहा है कि भूपेंद्र सिंह चुडास्मा ने यह जीत गलत तरीके से हासिल की थी.

उधर, भाजपा का कहना है कि इस मामले में सुप्रीम कोर्ट का रास्ता खुला है. गुजरात के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल का यह भी कहना था कि मुद्दे को लेकर राष्ट्रीय नेतृत्व से भी चर्चा की जाएगी.