कोरोना वायरस संकट के बीच आज एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र को संबोधित किया. प्रधानमंत्री ने इस दौरान 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज का ऐलान किया. उन्होंने कहा, ‘20 लाख करोड़ रुपये का यह पैकेज 2020 में देश की विकास यात्रा को नई गति देगा. इस पैकेज में आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को पूरा करने के लिए सभी क्षेत्रों पर बल दिया गया है. ये आर्थिक पैकेज हमारे कुटीर उद्योग, लघु उद्योग और मंझोले उद्योग (एमएसएमई) के लिए हैं, जो करोड़ों लोगों की आजीविका का साधन हैं, जो आत्मनिर्भर भारत के हमारे संकल्प का मजबूत आधार हैं.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा, ‘ये आर्थिक पैकेज देश के उस श्रमिक के लिए है, देश के उस किसान के लिए है जो हर स्थिति, हर मौसम में देशवासियों के लिए परिश्रम कर रहा है. ये आर्थिक पैकेज हमारे देश के मध्यम वर्ग के लिए है, जो ईमानदारी से टैक्स देता है, देश के विकास में अपना योगदान देता है.’

राष्ट्र के नाम अपने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने लॉकडाउन को लेकर भी ऐलान किया. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन का चौथा चरण होगा, लेकिन यह पूरी तरह से नए रंग रूप वाला होगा. पीएम मोदी के मुताबिक 17 मई के बाद लॉकडाउन का चौथा चरण राज्यों के सुझाव के आधार पर होगा. उन्होंने कहा कि इसके लिए नए नियम तय किए जाएंगे, ताकि बाकी कामों के साथ सामंजस्य बैठाते हुए लोग दो गज दूरी का भी पालन करें. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मुताबिक लॉकडाउन के चौथे चरण के नियमों की जानकारी 18 मई से पहले दे दी जाएगी.