केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि कोरोना वायरस लैब में बना है. एनडीटीवी से बातचीत में उनका कहना था, ‘ये कुदरती वायरस नहीं है, ये कृत्रिम वायरस है...ये वायरस एक लेबोरेट्री से आया है.’

नितिन गडकरी ऐसे पहले राजनेता नहीं हैं जो यह बात कह रहे हैं. अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो भी कह चुके हैं कि यह वायरस चीन के वुहान शहर की एक लैब से आया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप तो कोरोना वायरस को चीनी वायरस कहते रहे हैं.

हालांकि चीन इन आरोपों को कड़ाई के साथ खारिज करता रहा है. चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग कह चुके हैं कि उनका देश भी बाकी दुनिया की तरह इस वायरस का पीड़ित है. दिसंबर में चीन के वुहान शहर से ही कोरोना वायरस फैलना शुरू हुआ था.

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से मरने वालों का आंकड़ा तीन लाख के करीब पहुंच चुका है. सबसे ज्यादा मौतें अमेरिका में हुई हैं जहां अब तक 84 हजार से ज्यादा लोगों ने संक्रमण के चलते दम तोड़ा है. वहां 12 लाख से ज्यादा लोग इसकी चपेट में हैं.