लॉकडाउन-4 को लेकर दिल्ली सरकार ने नए दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि अब दिल्ली में शर्तों के साथ बस, ऑटो, कैब और टैक्सी चलाने की इजाजत होगी. उन्होंने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए बाजार भी खोले जाएंगे, लेकिन सैलून खोलने की इजाजत नहीं होगी. मंगलवार से प्राइवेट और सरकारी दफ्तरों के खुलने के अलावा निर्माण कार्य भी शुरू किए जाएंगे.

आज शाम अरविंद केजरीवाल ने एक संवाददाता सम्मलेन में कहा, ‘अब दिल्ली में रेस्टोरेंट खोले जा सकते हैं, लेकिन सिर्फ होम डिलीवरी ही होगी. स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स खोले जाएंगे, लेकिन दर्शकों की इजाजत नहीं होगी...ऑटो रिक्शा, ई-रिक्शा, साइकिल-रिक्शा सिर्फ एक सवारी के साथ, जबकि निजी चार पहिया वाहन, टैक्सी और कैब में ड्राइवर के अलावा दो सवारियां बैठ सकती हैं. दो पहिया वाहनों पर चलाने वाले के अलावा किसी अन्य को बैठने की इजाजत नहीं होगी.’

बसों को चलाने की बात करते हुए मुख्यमंत्री का कहना था कि बसों में ज्यादा से ज्यादा 20 सवारियां होंगी और यात्रियों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा. बस में बैठने से पहले सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जायेगी. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने साफ़ तौर पर कहा कि लॉकडाउन-4 के दौरान मेट्रो, स्कूल, कॉलेज, शॉपिंग मॉल, सैलून, स्विमिंग पूल, पार्क, थिएटर, धार्मिक स्थल, बार, ऑडिटोरियम और असेंबली हाल बंद रहेंगे. साथ ही किसी भी तरह से भीड़ इकट्ठा करने की अनुमति नहीं होगी.