अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान यानी सुपर साइक्लोन अंफन को लेकर आज केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से बात की. उन्होंने ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को भी फोन लगाया. अमित शाह ने दोनों मुख्यमंत्रियों को हरसंभव मदद का भरोसा दिया. आज ही गृह सचिव राजीव गौबा राष्ट्रीय आपदा निगरानी समिति के साथ एक बैठक भी करने वाले हैं. हालात को देखते हुए एनडीआरएफ और सेना अलर्ट पर हैं.

बंगाल की खाड़ी से उठा अंफन तूफान बुधवार को तट से टकराएगा. इसके चलते पश्चिम बंगाल और ओडिशा के कई इलाकों में भारी बारिश के साथ तेज हवाओं का अनुमान है. तटवर्ती इलाकों से लाखों लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है.

करीब 20 साल बाद ऐसा हुआ है कि बंगाल की खाड़ी में कोई ‘सुपर साइक्लोन’ बना हो. इसके चलते पश्चिम बंगाल और ओडिशा के उन हजारों मजदूरों की भी मुसीबतें बढ़ गई हैं जो लॉकडाउन की वजह से अन्य प्रदेशों से अपने-अपने गांवं की ओर लौट रहे हैं. हालांकि सरकार ने उनके लिए विशेष श्रमिक ट्रेनें चलवाई हैं, लेकिन जाने वालों की भीड़ इतनी ज़्यादा है कि बहुत से लोग पैदल ही यात्रा कर रहे हैं. यानी कोरोना वायरस से परेशान इन लोगों की मुश्किलों को अंफन बढ़ाने वाला है.