पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तबाही के निशान छोड़ता हुआ चक्रवाती तूफान अंफन अब पूर्वोत्तर की तरफ बढ़ गया है. इसके चलते असम और मेघालय में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है. हालांकि मौसम विभाग का कहना है कि अब यह तूफान कमजोर पड़ रहा है और अगले कुछ दिन तक यह सिलसिला जारी रहेगा. अंफन के असर से पूर्वोत्तर के बाकी राज्यों में भी हल्की से मध्यम बारिश होगी.

अंफन ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में 12 लोगों की जान ले ली है. इन दोनों राज्यों में कच्चे मकानों में रहने वाले लाखों लोगों के सिर से छत भी छिन गई है. फिलहाल दोनों राज्यों के छह लाख से ज्यादा लोग राहत शिविऱों में हैं. एनडीआरएफ और स्थानीय प्रशासन राहत और बचाव कार्य को अंजाम दे रहे हैं. कोरोना वायरस महामारी के समय आई इस आपदा ने अधिकारियों के लिए दोहरी मुश्किल खड़ी कर दी है. उनके लिए लोगों के बीच उचित दूरी बनाए रखने जैसी सावधानियों का पालन करवाना बहुत मुश्किल हो रहा है.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि अंफन तूफान ने कोरोना वायरस से ज्यादा तबाही मचाई है. उनके मुताबिक इसमें राज्य को करीब एक लाख करोड़ रु का नुकसान हुआ है.