पश्चिम बंगाल में अंफन तूफान से तबाही के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से राज्य का दौरा करने की मांग की है. ममता बनर्जी ने कहा है कि पश्चिम बंगाल में अंफन से 72 लोगों की मौत हुई है. उनके मुताबिक, ‘मैं पीएम मोदी से मांग करती हूं कि वे यहां का दौरा करें. मैं भी हवाई सर्वेक्षण करूंगी. लेकिन मैं हालात ठीक होने का इंतजार कर रही हूं...मैं अंफन से पश्चिम बंगाल में मरने वाले लोगों के परिजनों को दो लाख 50 हजार रुपए का मुआवजा देने की घोषणा करती हूं.’

ममता बनर्जी ने आगे कहा, ‘आज हमारी आय शून्य है और हमें चुनौतियों का सामना करना होगा. पूरे बंगाल में 72 लोगों की मौत हुई है.’ मुख्यमंत्री के मुताबिक कोलकाता में 15, हावड़ा में 7, उत्तर 24 परगना में 17, पूर्व मिदनापुर में छह, दक्षिण 24 परगना में 18 और हुगली में दो लोगों की मौत हुई है.

इससे पहले बुधवार रात को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा था कि उन्होंने पहले कभी इतनी बड़ी तबाही नहीं देखी. उनके मुताबिक अंफन का प्रभाव कोरोना वायरस जैसी महामारी से कहीं बड़ा था, इससे पश्चिम बंगाल को एक लाख करोड़ रुपए तक के नुकसान की संभावना है.

बुधवार दोपहर ढाई बजे अंफन पश्चिम बंगाल के तट से टकराया था. 160 से 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाले इस तूफान ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में भारी तबाही मचाई. कोलकाता के कई इलाकों में पानी भर गया है. तूफान का असर कोलकाता एयरपोर्ट पर दिखाई दे रहा है. यहां चारों तरफ पानी भरा हुआ है, रनवे और हैंगर पानी में पूरी तरह डूब चुके हैं.