भारत में कोरोना वायरस के खिलाफ अभियान में केंद्रीय भूमिका निभा रहे स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के कार्यकारी बोर्ड की कमान संभाल ली है. आज कार्यकारी बोर्ड की बैठक में उन्हें यह जिम्मेदारी दी गयी. हर्षवर्धन ने जापान के हिरोकी नाकाटानी की जगह ली.

डब्ल्यूएचओ के बोर्ड में 34 सदस्य होते हैं. चेयरमैन का पद हर साल बदलता रहता है और इसे संस्था अलग-अलग समूहों से नामित प्रतिनिधि को दिया जाता है. इस बार दक्षिण-पूर्व एशिया समूह की बारी थी और बीते साल ही तय हो गया था कि अगली बार यह जिम्मेदारी भारत का प्रतिनिधि संभालेगा. बीते मंगलवार को संस्था के सदस्य 194 देशों की महासभा ने इस फैसले पर मुहर लगा दी थी.

हर्षवर्धन खुद एक डॉक्टर हैं और ईएनटी यानी कान, नाक और गले से जुड़ी बीमारियों के विशेषज्ञ हैं. भारत में कोरोना वायरस के खिलाफ अभियान में वे केंद्रीय भूमिका निभा रहे हैं. हालांकि डब्ल्यूएचओ के बोर्ड की जिम्मेदारी पूर्णकालिक नहीं है औऱ हर्षवर्धन को सिर्फ इसकी बैठकों में हिस्सा लेने के लिए जाना होगा.