महाराष्ट्र सरकार ने घरेलू उड़ान सेवा शुरू करने के लिए केंद्र सरकार से और समय मांगा है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आज इस बाबत केंद्रीय नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी से बातचीत की. उद्धव ठाकरे ने पुरी से कहा कि उड़ानें वापस शुरू करने की तैयारी करने के लिए और समय की जरूरत है. इसके बाद राज्य के लोगों को संबोधित करते हुए ठाकरे ने कहा, ‘मैंने नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी से बात की है. मैं समझता हूं कि हवाई यात्रा को खोलने की जरूरत है, लेकिन इसकी तैयारी के लिए हमें कुछ और समय चाहिए...मानसून का मौसम आ रहा है. इससे जुड़ी बीमारियां भी आएंगी. हमें अतिरिक्त सावधानी बरतने की ज़रूरत है.’

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आगे कहा कि 31 मई से लॉकडाउन खुल जाएगा, इस बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता. उनका कहना था, ‘हमें देखना होगा कि आगे कैसे बढ़ें. आने वाला वक़्त काफ़ी मुश्किलों भरा हो सकता है क्योंकि संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं.’

सोमवार से घरेलू हवाई सेवाओं का परिचालन फिर से शुरू करने की केंद्र सरकार की योजना है. हालांकि, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु ने यात्री उड़ानें फिर से शुरू करने की केंद्र सरकार की योजना को लेकर चिंता जताई थी. महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने रविवार को एक ट्वीट में कहा, ‘रेड जोन में हवाई अड्डे खोलने की सलाह अत्यंत नासमझी वाली है. केवल यात्रियों की थर्मल जांच करना और लार के नमूने नहीं लेना अपर्याप्त होगा. मौजूदा परिस्थितियों में ऑटो/कैब/बसें चलाना असंभव है. संक्रमित रोगी के आने से रेड जोन पर दबाव और बढ़ जाएगा.’

इसके बाद तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल सरकार भी कोरोना संकट को देखते हुए हवाई सेवाएं फिर से शुरू की योजना को आगे बढ़ाने की बात कह चुके हैं. शनिवार को नागर विमानन मंत्री ने अगले एक-दो महीने में अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू होने के संकेत भी दिए हैं.