पूरी दुनिया के लिए आफत बने कोरोना वायरस के खिलाफ टीका 2021 की शुरुआत तक आ सकता है. हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के प्रोफ़ेसर आशीष झा ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी से एक संवाद में यह बात कही है. उन्होंने कहा, ‘तीन टीकों ने ट्रायल में कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ अच्छे नतीजे दिये हैं जिनमें से कोई एक अगले साल की शुरुआत में निश्चित रूप से तैयार हो जाएगा.’

प्रोफेसर आशीष झा हार्वर्ड ग्लोबल हेल्थ इंस्टीट्यूट के निदेशक हैं. सार्वजनिक स्वास्थ्य के क्षेत्र में उन्होंने काफी काम किया है. गर्मी में कोरोना वायरस के निष्क्रिय होने की चर्चाओं पर उनका कहना था, ‘अभी तक तो ऐसा नहीं देखा गया कि गर्मी का इस वायरस पर कुछ असर पड़ा हो. लेकिन यह देखा गया है कि खुली जगह में होने पर संक्रमण का खतरा किसी बंद जगह की तुलना में कम होता है.’ उनका यह भी कहना था कि टेस्टिंग की संख्या बढ़ाकर ही कोविड-19 को रोकना संभव है क्योंकि जितनी तेजी से संक्रमितों का पता लगेगा, उतनी ही जल्दी इसे रोकने के प्रयास किये जा सकेंगे.

Play

राहुल गांधी इन दिनों कोरोना वायरस से उपजे हालात को लेकर अलग-अलग विशेषज्ञों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये विशेष संवाद कर रहे हैं. इससे पहले वे नोबेल विजेता अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी और आरबीआई के मुखिया रहे रघुराम राजन के साथ बात कर चुके हैं. ताजा संवाद के तहत उन्होंने प्रोफेसर आशीष झा के अलावा स्वीडन के मशहूर स्वास्थ्य विशेषज्ञ योहान गीशेके से भी बात की.