हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण से सुरक्षा के लिए जरूरी उपकरणों (पीपीई किट) की खरीद में हुए कथित घोटाले की आंच अब भाजपा तक पहुंच गई है. पार्टी की राज्य इकाई के अध्यक्ष राजीव बिंदल ने पद से इस्तीफा दे दिया है. अपने इस्तीफे में राजीव बिंदल ने कहा कि वे नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे रहे हैं. उनका यह भी कहना है कि इस प्रकरण का भाजपा से कोई लेना-देना नहीं है. बताया जा रहा है कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने उनका इस्‍तीफा स्‍वीकार कर लिया है.

यह मामला एक ऑडियो क्लिप के वायरल होने के बाद सामने आया. यह क्लिप अजय गुप्ता और एक भाजपा नेता के करीब शख्स की बताई जा रही है. इसमें पांच लाख रु की रिश्वत की बात कही जा रही है. दरअसल कोरोना वायरस संकट से निपटने की कवायद के तहत स्वास्थ्य निदेशक के निर्देशन में एक खरीद समिति ने पीपीई किट की आपूर्ति के लिए नौ करोड़ रु के ऑर्डर दिए थे. रिश्वत इसी सौदे से जुड़ी बताई जा रही है. मामले पर शोर होने के बाद अजय गुप्ता को 20 मई को गिरफ्तार कर लिया गया था. मामले की जांच जारी है.