ट्विटर पर फिलहाल #गूगल_सर्च_मत_करिये ट्रेंड हो रहा है. सुनकर ऐसा लगता है कि यह गूगल से जुड़ा कोई विवाद है. लेकिन फिर पता चलता है कि यह समाचार चैनल पर हुई एक बहस का नतीजा है. यह बहस एबीपी न्यूज पर प्रवासी मजदूरों के संकट को लेकर हो रही थी. विपक्षी कांग्रेस और सत्ताधारी भाजपा के प्रवक्ता एक-दूसरे से तर्क-वितर्क कर रहे थे. इसी दौरान कांग्रेस प्रवक्ता रोहन गुप्ता ने भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया से पूछा कि वे मजदूरों की चिंता की बात कर रहे हैं लेकिन क्या उन्हें अपनी सरकार के श्रम मंत्री का नाम पता है.

इस पर गौरव भाटिया पहले तो यह कहकर मामला टालने की कोशिश करते दिखे कि आप अपना जवाब दीजिए और जब उनकी बारी आएगी तो वे बताएंगे. लेकिन रोहन गुप्ता बार-बार उनसे यही पूछते रहे. इस पर गौरव भाटिया नीचे देखने लगे और ऐसा लगा जैसे वे कुछ खोज रहे हों. उधर, कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि वे तुरंत नाम बताएं और गूगल पर मत खोजें. काफी देर बाद गौरव भाटिया ने जवाब दिया कि संतोष कुमार गंगवार.

इस वीडियो को लेकर गौरव भाटिया और भाजपा पर खूब तंज कसे जा रहे हैं. कई यूजर चुटकी भी ले रहे हैं. मसलन दिनेश दीक्षित नाम के एक यूजर ने ट्वीट किया है कि गौरव भाटिया अगर गूगल सर्च करें कि श्रम मंत्री कौन है तो जवाब आएगा कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता.

कुछ समय पहले भाजपा के ही एक और प्रवक्ता संबित पात्रा का ऐसा ही एक वीडियो भी चर्चा में रहा था. तब एक टीवी चैनल पर पांच ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था पर हो रही चर्चा में कांग्रेस प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने उनसे पूछ लिया था कि पांच ट्रिलियन में कितने जीरो होते हैं. इस पर संबित पात्रा भी अटक गए थे.