प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि कोरोना वायरस के चलते लगाए गए लॉकडाउन को पीछे छोड़कर भारत अनलॉक 1.0 में प्रवेश कर चुका है. उनके मुताबिक आत्मनिर्भर भारत अब सबसे बड़ी प्राथमिकता है और अब इस रास्ते पर तेजी से आगे बढ़ा जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ये बातें भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहीं.

सीआईआई के 125 साल पूरे होने पर इसके सदस्यों को बधाई देते हुए नरेंद्र मोदी ने कहा कि इंसान की सबसे बड़ी ताकत होती है कि वह हर मुश्किल का हल निकाल लेता है. उनका कहना था, ‘कोरोना वायरस ने देश के सामने नई चुनौतियां पेश कीं. हमें एक तरफ देशवासियों का जीवन भी बचाना है तो दूसरी तरफ देश की अर्थव्यवस्था को भी स्थिर करना है और आगे बढ़ाना है. हम विकास की राह पर वापस लौटेंगे और जरूर लौटेंगे.’ प्रधानमंत्री ने आगे कहा, ‘मुझे भारत के टैलेंट और तकनीक, इनोवेशन और इन्टेलेक्ट, किसानों और एसएमई और इंडस्ट्री के लीडर्स पर पूरा भरोसा है.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दावा किया कि कोरोना संकट से लड़ने के लिए सही समय पर सही कदम उठाए गए हैं. नरेंद्र मोदी का यह भी कहना था कि व्यवस्थाओं में सरकार के दखल को जितना हो सके कम करने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने आगे कहा, ‘पूरे विश्व में भारत के प्रति विश्वास बढ़ा है और इसका फायदा उद्योगों को उठाना चाहिए. मैं प्रधानमंत्री के तौर पर आपको भरोसा दिलाना चाहता हूं. मैं कहना चाहता हूं कि मैं आपके साथ खड़ा हूं. अब भारतीय उद्योग के पास आत्मनिर्भर भारत का स्पष्ट रास्ता है.’