अरब सागर से उठा चक्रवाती तूफान निसर्ग आज रात या कल तड़के महाराष्ट्र और गुजरात के तट से टकरा सकता है. इस दौरान भारी बारिश और 100 किलोमीटर प्रति घंटे से भी ज्यादा रफ्तार वाली हवाएं चलने की संभावना है. इसे देखते हुए इन दोनों राज्यों में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है.

निसर्ग 1891 के बाद मुंबई आने वाला पहला चक्रवाती तूफान है. मौसम विभाग के मुताबिक दूसरे इलाकों की तुलना में इसका इस महानगर पर ज्यादा असर पड़ेगा. भारत की आर्थिक राजधानी पहले ही कोरोना वायरस संकट से जूझ रही है. यहां अब तक संक्रमण के करीब 40 हजार मामले आ चुके हैं.

निसर्ग की तीव्रता समय के साथ बढ़ती जा रही है. इसे देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र और गुजरात के हालात का जायजा लिया है. उन्होंने लोगों से हर सावधानी बरतने की अपील की है. एनडीआरएफ ने गुजरात में 13 और महाराष्ट्र में 16 टीमें तैनात की हैं. निचले इलाकों को खाली कराया जा रहा है. हाल में अंफन तूफान में पश्चिम बंगाल और ओडिशा में भारी तबाही मचाई थी. इसमें 70 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी.