रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने अपनी कंपनी के कर्ज मुक्त होने का ऐलान किया है. एक बयान जारी कर उन्होंने कहा है, ‘मैंने रिलायंस को कर्ज मुक्त बनाकर शेयरधारकों से किया वादा पूरा किया है और वह भी तय समयसीमा यानी 31 मार्च 2021 से काफी पहले.’

31 मार्च 2020 को रिलायंस इंडस्ट्रीज पर कुल कर्ज एक लाख 62 हजार 35 करोड़ रु था. इसके बाद कंपनी में एक लाख 68 हजार करोड़ रु से भी ज्यादा का निवेश हुआ है. निवेश करने वालों में सोशल मीडिया क्षेत्र की दिग्गज अमेरिकी कंपनी फेसबुक शामिल है. इसने बीते अप्रैल में ही रिलायंस इंडस्ट्रीज समूह की कंपनी जियो प्लेटफार्म्स लिमिटेड में 10 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के लिए 43,574 करोड़ रुपये का समझौता किया है. फेसबुक के बाद कई और कंपनियों ने भी जियो में निवेश किया है और कुल मिलाकर इस दूरसंचार कंपनी में करीब 25 फीसदी की हिस्सेदारी खरीदी है.

अपने बयान में मुकेश अंबानी का कहना है, ‘इतने कम समय में हुए कुल पूंजी निवेश को देखें तो दुनिया में ऐसा कोई दूसरा उदाहरण नहीं है.’ उनका यह भी कहना था कि इसने भारतीय कॉरपोरेट जगत में नए प्रतिमान स्थापित किए हैं. मुकेश अंबानी ने कहा, ‘यह तब और भी असाधारण हो जाता है जब हम यह देखते हैं कि हमने यह सफलता कोविड-19 महामारी के चलते दुनिया भर में हुए लॉकडाउन के बीच हासिल की है.’